लाल किताब अनुसार रखें घर में ये वस्तुएं, कमाल हो जाएगा

अनिरुद्ध जोशी|
धन, समृद्धि, शांति एवं निरोगी काया के लिए, घटना-दुर्घटना, से बचने के लिए एवं ग्रह-नक्षत्र के दुष्प्रभाव से बचने के लिए यहां प्रस्तुत है के कुछ उपाय। लेकिन किसी विशेषज्ञ को अपनी कुंडली दिखाकर ही इन्हें आजमाएं।

ठोस चांदी का हाथी : घर में ठोस चांदी का हाथी रखना चाहिए। कुछ लोग अपनी जेब में शुद्ध चांदी का एक छोटा सा हाथी रखते हैं।

पीतल और तांबे के बर्तन : पीतल के बर्तन में भोजन करना, तांबे के बर्तन में पानी पीना लाभकारी होता है। घर में पीतल और तांबे के प्रभाव से सकारात्मक और शांतिमय ऊर्जा का निर्माण होता है।

असली शहद : एक कांच या मिट्टी के बर्तन में शहद भरकर उचित रखना चाहिए। कुछ लोगों को सुबह खाली पेट शहद खाने की सलाह भी दी जाती है।

पत्थर की घट्टी : अब आजकल घरों में आनाज पीसने की छोटी घट्टी नहीं मिलती हालांकि ग्रामिण क्षेत्रों में अभी भी यह पायी जाती है। इसी तरह मसाला आदि पीसने का पत्थर, या खलबत्ता भी बहुत कम घरों में होता है। मात्र एक बाइ एक फुट की घट्टी आप अपने घर में रखें।

चांदी की डिब्बी : एक चांदी की डिब्बी में पानी भरकर उस डिब्बी को तिजोरी में रखें। पानी के सुख जाने पर उसे दोबारा भर लें। हर बार ऐसा होने पर उसे भरते रहें।
काला सुरमा : काला खड़ा सुरमा किसी भी पंसारी कि दुकान पर मिल जाएगा। उसे घर में किसी उचित स्थान पर रख दें। हालांकि कुछ लोगों को इसे जेब में रखने की सलाह भी दी जाती है।

चांदी और सोना : चांदी का एक चोकोर टुकड़ा घर में रखें। कुछ लोगों को इसे जेब में रखने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा सोने को पीले रंग के कपड़े में लपेटकर ही रखें।

हनुमानजी का चित्र : बैठे हुए हनुमानजी का एक चित्र अपने घर की दक्षिण दीवार पर लगाकर रखें और उसकी नित्य पूजा करते रहें।

पीला रंग :
आप अपने घर की परदे या चादरों को पीला रंग का रखें। पीले, गुलाबी और सफेद रंग के वस्त्र ही पहनें।

देसी गुड़ : घर में देसी गुड़ लाकर रखें। गुड़ खाएं और खिलाएं। घर से बाहर जाने के पहले थोड़ा सा गुड़ खाकर निकलें।

तांबे के सिक्के : अपने घर में कुछ तांबे के सिक्के जरूर रखें। कुछ लोगों को तांबे का एक सिक्का सफेद धागे में डालकर गले में लटकाकर रखने की सलाह दी जाती है।
कॉपीराइट वेबदुनिया

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :