0

सिद्धिदात्री : मां दुर्गा की नौवीं शक्ति देती है हर तरह की सिद्धि...

शनिवार,मार्च 24, 2018
0
1
कभी-कभी पंचांगों की गणना आमजन के लिए दुविधा का कारण बन जाती है। चैत्र शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को लेकर भी इस बार संशय ...
1
2
नवरात्रि में दुर्गा पूजा के दौरान अष्टमी पूजन का विशेष महत्व माना जाता है। इस दिन मां दुर्गा के महागौरी रूप का पूजन ...
2
3
पति रूप में शिव को प्राप्त करने के लिए महागौरी ने कठोर तपस्या की थी। इसी वजह से इनका शरीर काला पड़ गया लेकिन तपस्या से ...
3
4
दुर्गा पूजा के सातवें दिन मां कालरात्रि की उपासना का विधान है। इस दिन साधक का मन 'सहस्रार' चक्र में स्थित रहता है। इसके ...
4
4
5
नवरात्रि के दिनों में कुछ लोग अष्टमी के दिन और कुछ नवमी के दिन कन्या पूजन करते हैं। परिवार की रीति के अनुसार किसी भी ...
5
6
महाष्टमी और महानवमी देवी कृपा प्राप्ति का दिव्य अवसर है। नवरात्रि के नौ दिनों के समापन के समय वर्ष भर की शुभता के लिए ...
6
7
इसी 26 मार्च, सोमवार चैत्र शुक्ल दशमी तिथि को 9 दिनों से चले आ रहे चैत्र नवरात्रि समाप्त जाएंगे। इस दिन जवारे एवं देवी ...
7
8
हे मां! सर्वत्र विराजमान और कात्यायनी के रूप में प्रसिद्ध अम्बे, आपको मेरा बार-बार प्रणाम है। या मैं आपको बारंबार ...
8
8
9
प्रत्येक दिन की 1 देवी मतलब 9 द्वार वाले दुर्ग के भीतर रहने वाली जीवनी शक्तिरूपी दुर्गा के 9 रूप हैं-इनका 9 ...
9
10
स्कंदमाता देवी की चार भुजाएं हैं। ये दाईं तरफ की ऊपर वाली भुजा से स्कंद को गोद में पकड़े हुए हैं। नीचे वाली भुजा में कमल ...
10
11
किसे हुए नारियल में दोनों आटे एवं पिसी हुई इलायची व शकर मिलाएं। उबला आलू छीलकर मैश कर लें। इसे आटे में मिलाकर गूंथ लें।
11
12
नवरात्रि में चौथे दिन देवी को कूष्मांडा के रूप में पूजा जाता है। इस देवी की आठ भुजाएं हैं, इसलिए अष्टभुजा कहलाईं।
12
13
नवरात्रि में राम मंत्रों का जाप भी किया जाता है। उन्हें या उनमें से किसी एक के करने पर इच्छापूर्ति नि:संदेह पूर्ण होगी।
13
14
नवरात्रि में नृसिंह भगवान की आराधना का बहुत महत्व है। जानिए क्यों...
14
15
माता दुर्गा के 9 रूपों का उल्लेख श्री दुर्गा-सप्तशती के कवच में है जिनकी साधना करने से भिन्न-भिन्न फल प्राप्त होते हैं। ...
15
16
मां दुर्गा को अपने यह 32 नाम अति प्रिय हैं। इन्हें सुनकर वे पुलकित हो जाती हैं।
16
17
श्री दुर्गाजी की आरती- जय अम्बे गौरी मैया जय मंगल मूर्ति। तुमको निशिदिन ध्यावत हरि ब्रह्मा शिव री
17
18
राजगीरे के आटे को एक बड़े बाउल में लेकर उसमें काली मिर्च, लाल मिर्च, जीरा, हरी मिर्च, नमक, धनिया मिला लें और पकौड़े का ...
18
19
लौकी को छिलकर कद्दूकस कर लें। अब इसमें सभी मसाले व सिंघाड़े का आटा मिला लें। एक कड़ाही में तेल गर्म करके छोटे-छोटे ...
19