अरविन्द केजरीवाल के मंत्री कैलाश गहलोत के घर IT का छापा, करोड़ों की बेनामी संपत्ति बरामद

पुनः संशोधित शनिवार, 13 अक्टूबर 2018 (15:25 IST)
नई दिल्ली। भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़कर सत्ता में आई दिल्ली की केजरीवाल सरकार में परिवहन मंत्री और आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता कैलाश गहलोत के यहां आयकर विभाग का जब छापा पड़ा तो गहलोत और उनके सहयोगियों के पास से लाखों की संपत्ति जब्त हुई है। छापे के दौरान 100 करोड़ रुपए से ज्यादा टैक्स चोरी के मामला सामने आया।

आयकर विभाग ने दिल्ली कैबिनेट और उनके परिवार के सदस्यों के दिल्ली और गुरुग्राम स्थित 16 आवासों और अन्य ठिकानों पर बुधवार को छापेमारी की थी। गहलोत में परिवहन, कानून, राजस्व, सूचना प्रौद्योगिकी व प्रशासनिक सुधार विभाग संभालते हैं।

आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक, जांच में ब्लैंक साइन शेयर फॉर्म मिले हैं। साथ ही अनेक बेनामी प्रोपर्टियों का भी पता चला है। ये प्रापर्टियां कंपनी के वर्करों के नाम भी हो सकती है।


आयकर विभाग ने करीब सवा 2 करोड़ रुपए से ज्यादा रकम के जेवरात बरामद किए। कैलाश गहलोत पर आरोप है कि उन्होंने शैल कंपनियों के जरिए भी पैसा और प्रापर्टी खरीदी। आयकर विभाग की जांच के बाद ईडी और सीबीआई भी मुकदमा दर्ज कर सकती है।

आयकर विभाग द्वारा संपत्ति का पता चलने के बाद आम आदमी पार्टी (आप) के पूर्व नेता कपिल मिश्रा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साथ है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ''केजरीवाल के मंत्री कैलाश गहलोत के यहां IT को क्या मिला? 175 से ज्यादा प्रॉपर्टी विल के दस्तावेज मिले। एक प्रॉपर्टी ड्राइवर के नाम। सवा 2 करोड़ के ज़ेवरात ज़ब्त। 100 करोड़ की टैक्स चोरी।''


वहीं, बीजेपी ने ट्वीट कर कहा, ''अपने यही कारनामे छुपाने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी के नेता रेड का विरोध कर रहे थे। केजरीवाल जी का ईमानदारी वाला मुखौटा उतर गया है और असली चेहरा सबको दिख रहा है।'' (एजेंसी)


और भी पढ़ें :