हरमनप्रीत ने रचा इतिहास, टी-20 में शतक बनाने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी

प्रोविडेन्स| Last Updated: शुक्रवार, 9 नवंबर 2018 (23:41 IST)
प्रोविडेन्स (गयाना)। कप्तान हरमनप्रीत के रिकॉर्ड शतक और युवा जेमिमा रोड्रिग्स के साथ उनकी शतकीय साझेदारी से ने आईसीसी महिला विश्व टी-20 में न्यूजीलैंड के खिलाफ शुक्रवार को यहां अपने पहले मैच में 5 विकेट पर 194 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया, जो इस टूर्नामेंट का नया रिकॉर्ड है।
जवाब में न्यूजीलैंड की टीम 9 विकेट खोकर 160 रन ही बना सकी। इस तरह भारत ने ‍यह मैच 34 रनों से जीत लिया।

हरमनप्रीत ने 6ठे ओवर में तब क्रीज पर कदम रखा, जब टीम का स्कोर 3 विकेट पर 40 रन था। उन्होंने 51 गेंदों पर 103 रनों की लाजवाब पारी खेली जिसमें 7 चौके और 8 छक्के शामिल हैं। रोड्रिग्स ने 19वें ओवरों में जेस वाटकिन की गेंद पर स्टंप आउट होने से पहले 45 गेंदों पर 7 चौकों की मदद से 59 रन बनाए। इन दोनों ने चौथे विकेट के लिए 134 रन जोड़े, जो भारतीय रिकॉर्ड है।
हरमनप्रीत टी-20 अंतरराष्ट्रीय में शतक जड़ने वाली पहली भारतीय बल्लेबाज हैं। इससे पहले भारत की तरफ से सर्वाधिक स्कोर मिताली राज (नाबाद 97) के नाम पर था। यही नहीं, हरमनप्रीत और रोड्रिग्स ने भारत के लिए पहली बार 4थे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी निभाई। भारत ने विश्व टी-20 में सर्वाधिक स्कोर बनाया। उसने ऑस्ट्रेलिया (4 विकेट 194 रन बनाम आयरलैंड, 2014) का रिकॉर्ड तोड़ा।

भारतीय कप्तान ने वाटकिन को विशेष निशाने पर रखा। उन पर उन्होंने शुरू में 2 छक्के लगाए और बाद में भी इस ऑफ स्पिनर को फिर से यही सबक सिखाकर मिताली के स्कोर की बराबरी की। हरमनप्रीत ने आखिरी ओवर में 49 गेंदों पर शतक पूरा किया और इस तरह से विंडीज की डींड्रा डोटिन और ऑस्ट्रेलिया की मेग लैनिंग के बाद विश्व टी-20 में सैकड़ा जड़ने वाली तीसरी बल्लेबाज बनीं।
हरमनप्रीत ने शुरू में वाटकिन पर मिडिवकेट और मिडऑफ पर छक्के जड़कर भारतीयों में उत्साह भरा। दूसरी तरफ से रोड्रिग्स ने शुरू से ढीली गेंदों का इंतजार किया। तुहुहु की ऑफस्टंप पर जा रही गेंद पर मिडविकेट पर लगाया गया उनका चौका दर्शनीय था।

भारत ने 14वें ओवर में तिहाई का अंक छुआ। इस ओवर में कीवी कप्तान एमी सैथरवाइट ने स्वयं गेंद संभाली थी और हरमनप्रीत ने इस ऑफ स्पिनर पर 2 दर्शनीय छक्के लगाए। कास्परेक जब अपना दूसरा स्पैल करने आईं तो हरमनप्रीत ने छक्के से उनका स्वागत किया। उन्होंने 19वें ओवर में वाटकिन पर 2 छक्के लगाकर अपना सैकड़ा सुनिश्चित किया।
18 वर्षीय जेमिमा ने भी अपनी कप्तान का पूरा साथ दिया तथा 39 गेंदों पर अपना चौथा अर्द्धशतक पूरा किया। वे हालांकि अपना सर्वोच्च स्कोर बनाने के बाद पैवेलियन लौट गईं। इससे पहले भारत ने टॉस जीता, तेजतर्रार शुरुआत के लिए शीर्ष क्रम में बदलाव किया लेकिन यह दांव नहीं चला। पॉवरप्ले में फिर से टीम ने विकेट गंवाए और इस बार 6 ओवरों में 3 बल्लेबाज पैवेलियन लौटे। इस बीच भारतीय टीम ने 41 रन बनाए।
अपने 21 मैचों के करियर में पहली बार पारी का आगाज करने उतरीं तानिया भाटिया (9) ने वाटकिन पर 2 चौके लगाकर सकारात्मक शुरुआत भी की लेकिन लीय तुहुहु ने अगले ओवर की पहली गेंद उनके बल्ले और पैड के बीच से निकालकर विकेटों में समा दी।

पिछले 5 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में दोहरे अंक में पहुंचने में नाकाम रहीं स्मृति मंदाना शुक्रवार को भी केवल 2 रन बना पाईं। तुहुहु की गेंद पर उनका पुल शॉट हीली जेनसन ने बड़ी खूबसूरती से कैच में बदल दिया। दयालन हेमलता (7 गेंदों पर 15) ने पदार्पण पारी में ऑफ स्पिनर लीग कास्पेरेक पर स्वीप करके अपना विकेट इनाम में दिया। (भाषा)


और भी पढ़ें :