रिलायंस इंडस्ट्रीज को रिकॉर्ड 9459 करोड़ रुपए का मुनाफा

मुंबई। पेट्रो उत्पादों समेत विभिन्न क्षेत्रों में कारोबार करने वाली कंपनी लिमिटेड (आरआईएल) का समग्र शुद्ध मुनाफा चालू वित्त वर्ष की 30 जून को समाप्त पहली तिमाही में 17.9 प्रतिशत बढ़कर रिकॉर्ड 9,459 करोड़ रुपए पर पहुंच गया।

पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 8,021 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था, हालांकि आरआईएल ने इस आंकड़े में गल्फ अफ्रीका पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन में अपनी हिस्सेदारी से बेचने से प्राप्त 1,087 करोड़ रुपए की आय को शामिल नहीं किया है।

कंपनी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने परिणाम पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि पिछली बार निवेश के दौरान हमने अपने पेट्रोकेमिकल कारोबार को जो मजबूती प्रदान की थी, पहली तिमाही के आंकड़े उसी का परिणाम हैं।
पेट्रोकेमिकल कारोबार का कर पूर्व मुनाफा रिकॉर्ड स्तर पर रहा है। वहीं, रिफाइनिंग कारोबार का प्रदर्शन स्थिर रहा है। पेट्रो उत्पादों की अच्छी वैश्विक मांग बनी रहना हमारे लिए अच्छा संकेत है।

आलोच्य तिमाही में बिक्री एवं सेवाओं से प्राप्त कंपनी का कुल राजस्व 1,41,699 करोड़ रुपए रहा जो पिछले साल की समान तिमाही के 90,537 करोड़ रुपए के मुकाबले 56.5 प्रतिशत अधिक है। राजस्व में 56 प्रतिशत की वृद्धि के बावजूद मुनाफा मात्र 18 फीसदी बढ़ने की मुख्य वजह कच्चा तेल की कीमतों में तेजी रही है।
कच्चे माल पर कंपनी का खर्च 44,117 करोड़ रुपये से 54.71 प्रतिशत बढ़कर 68,255 करोड़ रुपए पर और आपूर्ति श्रृंखला में मौजूद भंडार की खरीद पर खर्च 14,403 करोड़ रुपए से करीब दोगुना होकर 26,556 करोड़ रुपए पर पहुंच
गया।

तिमाही के दौरान रिफाइनिंग कारोबार से कंपनी को 95,646 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ जबकि पेट्रोकेमिकल कारोबार से 40,287 करोड़ रुपए का कुल राजस्व मिला। इसके बाद रिटेल का कारोबार का स्थान रहा जिससे उसका राजस्व 25,890 करोड़ रुपए पर रहा।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :