आईटी कंपनियों के दम पर गिरावट से उबरा शेयर बाजार

पुनः संशोधित शुक्रवार, 15 जून 2018 (18:50 IST)
मुंबई। विदेशी बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों से शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजारों में भी निवेश धारणा कमजोर हुई, लेकिन दिग्गज आईटी, टेक और फार्मा कंपनियों में हुई लिवाली के दम पर प्रमुख सूचकांक हरे निशान में बंद होने में कामयाब रहे। का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक 22.32 अंक चढ़कर 35,622.14 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 9.65 अंक की बढ़त में 10,817.70 अंक पर बंद हुआ।
अमेरिका में 3 महीने में लगातार दूसरी बार ब्याज दरों में बढ़ोतरी से अधिकतर एशियाई और यूरोपीय बाजार भी लाल निशान में रहे। विदेशी निवेशकों ने पूंजी बाजार से पैसे निकालने शुरू कर दिए हैं। डॉलर की तुलना में रुपए की गिरावट से भी में निवेश धारणा कमजोर हुई है। बाजार में बिकवाली इस कदर हावी रही कि आईटी, टेक और स्वास्थ्य समूहों को छोड़कर बीएसई के अन्य सभी 17 समूह लाल निशान में रहे। आईटी में सवा 2 प्रतिशत और टेक तथा स्वास्थ्य में करीब 2 प्रतिशत की तेजी रही। सबसे ज्यादा 1.64 प्रतिशत की गिरावट पीएसयू समूह में रही।
सेंसेक्स 56.44 अंक की तेजी में 35,656.26 अंक पर खुला। दोपहर तक इसमें तेजी रही, लेकिन एशियाई संकेतों के दबाव में इसके बाद यह लाल निशान में चला गया और एक समय 35,419.68 अंक तक उतर गया। आईटी और टेक के साथ जैसी दिग्गज कंपनियों ने बाजार को संभालने की कोशिश की और कारोबार की समाप्ति पर 0.06 प्रतिशत यानी 22.32 अंक की बढ़त में 35,622.14 अंक पर पहुंच गया। इसका उच्चतम स्तर 35,675.20 अंक दर्ज किया गया। सेंसेक्स की 30 में से 20 कंपनियों के शेयर गिरावट में और शेष 10 के बढ़त में रहे।

निफ्टी 0.06 अंक की बेहद मामूली बढ़त में 10,808.65 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान इसका दिवस का उच्चतम स्तर 10,834 अंक और निचला स्तर 10,755 अंक दर्ज किया गया। अंतत: यह गुरुवार के मुकाबले 0.09 प्रतिशत यानी 9.65 अंक की मजबूती के साथ 10,817.70 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी में शामिल 50 में से 20 कंपनियों के शेयर हरे और शेष 30 के लाल निशान में रहे।

बीएसई में कुल 2,786 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। उनमें 1,534 के शेयरों के भाव टूट गए और 150 के अपरिवर्तित रहे जबकि 1,102 कंपनियों के शेयरों में तेजी रही। मझौली और छोटी कंपनियों के सूचकांकों पर दबाव देखा गया। बीएसई का मिडकैप 0.40 प्रतिशत और स्मॉलकैप 0.46 प्रतिशत फिसलकर क्रमश: 16,001.20 अंक और 16,961.16 अंक पर आ गया। (वार्ता)


और भी पढ़ें :