सीरिया में युद्ध से पीछे नहीं हटेगा अमेरिका : मैटिस

वाशिंगटन| पुनः संशोधित मंगलवार, 14 नवंबर 2017 (10:35 IST)
वाशिंगटन। सीरिया और इराक में इस्लामिक स्टेट समूह के खिलाफ अमेरिका नीत एक सैन्य गठबंधन अपनी लड़ाई तब तक जारी रखेगा जब तक संयुक्त राष्ट्र की शांति प्रक्रिया इस संबंध में आगे नहीं बढ़ती। अमेरिका के रक्षा मंत्री ने यह कहा।
उन्होंने बताया, 'हम यहां से तब तक पीछे नहीं हटने वाले जब तक जिनेवा में होने वाली प्रक्रिया और आगे नहीं बढ़ जाती। आपको अब इससे निपटने के लिए कुछ तो करना होगा, केवल विद्रोहियों से लड़ना और फिर सबकुछ उस हाल में छोड़ देना काफी नहीं है।'

उन्होंने कहा कि इस गठबंधन का लक्ष्य हमेशा से आईएस से लड़ना और सीरियाई गृह युद्ध को खत्म करने के लिए एक कूटनीतिक हल ढूंढना था।

उन्होंने कहा कि हम यह सुनिश्चित करेंगे कि हम एक कूटनीतिक समाधान के लिए परिस्थितियां बनाएं। शनिवार को अमेरिका और रूस ने संयुक्त बयान जारी कर कहा था कि सीरिया के संघर्ष का कोई भी सैन्य समाधान नहीं है।
बयान में कहा गया कि दोनों देशों के राष्ट्रपति सीरिया की एकता, स्वतंत्रता, संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता और गैर-संप्रादायिक चरित्र के लिए प्रतिबद्धता हैं। इसमें जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र नीत वार्ता में सभी पक्षों से शामिल होने का आह्वान किया गया।
(भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :