क्या आपको भी है कोई फोबिया? जानें डर के 7 प्रकार


जीवन में हर किसी को लगता है, कई बार दिमाग में हर वक्त किसी बात का डर बना ही रहता है। किसी विशेष प्रकार के डर को, विशेष फोबिया के नाम से जाना जाता है, आप भी जानें डर के यह 7 प्रकार कहीं आपको तो नहीं ?  
1 मायसोफोबिया - यानि कीटाणु का डर, किसी भी चीज को खाने, छूने या किसी कार्य को करते वक्त कुछ लोगों को कीटाणु के संक्रमण का डर बना रहता है और यह बात पूरे समय उनके दिमाग में होती है, जिसके कारण वे सफाई में लगे रहते हैं, इसे वैज्ञानिक और चिकित्सकीय भाषा में मायसोफोबिया कहते हैं।  
आर्कनो फोबिया - अगर आप भी उन लोगों में शामिल हैं, जो मकड़ी को देखते ही चींखने-चिल्लाने या भागने लगते हैं, तो आप भी इस फोबिया के शिकार हैं। मकड़ी से डर लगना आर्कनो फोबिया कहलाता है।

3 नैक्टो फोबिया - यह डर का वह प्रकार है, जो सामान्य रूप से ज्यादातर लोगों में देखा जाता है। अंधेरे से लगने वाले डर को नैक्टो फोबिया कहा जाता है।
4 एयरो फोबिया - एयरोफोबिया, डर का वह प्रकार है जिसमें व्यक्ति को उड़ने या अधिक ऊंचाई पर होने से डर लगता है। अगर आप भी ऊंचाई वाले स्थान पर या फिर हवाई जहाज में डरते हैं, तो आप इसके शिकार हैं।
 
5 पेनो फोबिया - पेनो फोबिया किसी अंजान चीज, बात, घटना आदि का वह डर है, जिसके घटित होने की संभावना नहीं होती लेकिन अनहोनी का डर बना रहता है।
6 एस्ट्रा फोबिया - तेज आंधी चलने, बादल के जोर-जोर से गरजने या बिजली चमकने की स्थिति में कई बार मन में एक डर पैदा हो जाता है जिसे एस्ट्रा फोबिया कहते हैं। 
 
सोमनीफोबिया - यह डर का वह प्रकार है, जिसमें व्यक्ति ज्यादातर समय इस बात को लेकर आशंकित रहता है कि कहीं उसे नींद न आ जाए।


और भी पढ़ें :