हज़ल : वाहिद अंसारी बुरहामपुरी

WD|
नोट :-- मिर्ज़ा ग़ालिब की मशहूर ग़ज़ल है "दिल-ए-नादाँ तुझे हुआ क्या है" इस ग़ज़ल के शे'रों के सानी (दूसरे) मिसरों को तो वही रखा गया है लेकिन ऊला मिसरों (पहले मिसरों) को बदल दिया गया है। इस तरह ये ग़ज़ल हो गई है और उसमें तंज़-ओ-मिज़ाह का रंग शामिल हो गया है।

तू ये रेह-रेह के चीख़ता क्या है
दिल-ए-नादाँ तुझे हुआ क्या है

इश्क़ का केंसर है बरसों से
आख़िर इस दर्द की दवा क्या है

खा रहा हूँ मैं मार बीवी की
या इलाही ये माजरा क्या है

मुझ पे बेलन भी तुम उठाव मगरकाश पूछो के मुद्दुआ क्या है

पाऎं वो तमग़ा-ए-वफ़ादारी
जो नहीं जानते वफ़ा क्या है

लानतें भेजता हूँ दुनिया पर
मैं नहीं जानता दुआ क्या है

मय का पीना हराम है वाहिद
मुफ़्त हाथ आए तो बुरा क्या है
वाहिद अंसारी की ईद

ईद के दिन हो गई बेगम से अनबन दोस्तो
चल गया आपस में डंडा और बेलन दोस्तो

शीर-ख़ुरमा और सिवय्याँ हों मुबारक आपको
अपनी क़िस्मत में लिखा है ग़म का सालन दोस्तो

बेबसी, बेचारगी के हर पराठे पर लगाअपनी हर झूटी हंसी का है पलेथन दोस्तो

एश-ओ-इशरत की हमें बिरयानी क्या होगी नसीब
हमने तो अब तक न पाई उसकी खुरचन दोस्तो

हर तरफ़ जश्न-ए-बहाराँ, हर तरफ़ रंग-ए-निशात
सूना-सूना है हमारे दिल का आगन दोस्तो

ईद के नख़रे उठाने के लिए बतलाएँ क्याबिक गए वाहिद के घर के सारे बरतन दोस्तो

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान ...

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान भी जरूर जान लें
लिप बाम सौंदर्य प्रसाधन में आज एक ऐसा प्रोडक्ट बन चुका है, जिसके बिना किसी लड़की व महिला ...

पति यदि दिखाए थोड़ी सी समझदारी तो पत्नी भूल जाएगी नाराज होना

पति यदि दिखाए थोड़ी सी समझदारी तो पत्नी भूल जाएगी नाराज होना
पति-पत्नी के बीच घर के दैनिक कार्य को लेकर, नोकझोंक का सामना रोजाना होता हैं। पति का ...

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव
मिर्च-मसाले वाले पदार्थ अधिक सेवन करने से एसिडिटी होती है। इसके अतिरिक्त कई कारण हैं ...

फलाहार का विशेष व्यंजन है चटपटा साबूदाना बड़ा

फलाहार का विशेष व्यंजन है चटपटा साबूदाना बड़ा
सबसे पहले साबूदाने को 2-3 बार धोकर पानी में 1-2 घंटे के लिए भिगो कर रख दें।

बालों को कलर करते हैं, तो पहले यह सही तरीका जरूर जान लें

बालों को कलर करते हैं, तो पहले यह सही तरीका जरूर जान लें
हर बार आप सैलून में ही जाकर अपने बालों को कलर करवाएं, यह संभव नहीं है। बेशक कई लोग हमेशा ...

दूषित सोच से पीड़ित एक प्रसिद्ध भारतीय अर्थशास्त्री

दूषित सोच से पीड़ित एक प्रसिद्ध भारतीय अर्थशास्त्री
पिछले सप्ताह विश्व प्रसिद्ध अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन ने मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों के ...

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके ...

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके बच्चे को बिगड़ने से कोई नहीं रोक सकता!
पैरेंट्स की कुछ ऐसी आदतें होती हैं, जो वे बच्चों को सुधारने, कुछ सिखाने-पढ़ाने और नियंत्रण ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो यह एस्ट्रो टिप्स आपके लिए है
क्या आप भी संकोची हैं, अगर हां तो यह आलेख आपके लिए है...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों ...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों को नजरअंदाज करें, वरना हो सकती है बड़ी परेशानी
ये बीमारी भी ऐसे ही सामने नहीं आती। इसके भी लक्षण हैं जो आप और हम जैसे लोग अनदेखा करते ...

श्री गुरु पूर्णिमा : कैसे मनाएं घर में पर्व जब कोई गुरु ...

श्री गुरु पूर्णिमा : कैसे मनाएं घर में पर्व जब कोई गुरु नहीं हो...ग्रहण के कारण इस समय कर लें पूजन
वे लोग जिन्हें गुरु उपलब्ध नहीं है और साधना करना चाहते हैं उनका प्रतिशत समाज में अधिक है। ...