कुंडली के हर अशुभ दोष का निवारण करना है तो ऐसे बिदा करें पितरों को

बुधवार,सितम्बर 20, 2017
आज पितृ पक्ष की विदाई का आखिरी दिन है। अत: आप उनकी श्रद्धास्वरूप अब तक उनके लिए कुछ नहीं कर पाए हैं तो भी घबराने की कोई ...
पितृ दोष निवारण के लिए हर माह आनेवाली अमावस्या तथा श्राद्ध पक्ष के दौरान आनेवाली सर्वपितृ यानी भूतड़ी अमावस्या पर पूजा ...
पितृ अपने कुल की रक्षा करते हैं और उन्‍हें हर संकट से बचाते हैं। वे अपने वंशजों को सुख, समृद्धि, संतान, वैभव, यश, ...
अमावस्या के दिन सभी पितरों के निमित्त एक साथ तर्पण, दान व पूजन सकते हैं। हमें जिन पितरों की तिथि या तारीख का ध्यान न ...
Widgets Magazine
वर्ष 2017 में सर्वपितृ अमावस्या 19 सितंबर 2017, मंगलवार के दिन मनाई जाएगी। क्या आप जानते हैं श्राद्ध करने का शुभ समय. ...
पितृ की तिथि याद नहीं हो, उनके निमित्त श्राद्ध तर्पण, दान आदि इसी अमावस्या को किया जाता है। अमावस्या के दिन सभी पितृ का ...
वंश का कोई भी पुत्र जीर्ण-शीर्ण शिवालय का उद्धार करें ताकि पूर्वजों की भटकती हुईं आत्माओं का कल्याण हो सके और वे मुक्ति ...
दोपहर हो गई थी। पिंडदान का कुतप समय निकलता जा रहा था और सीता जी की व्यग्रता बढ़ती जा रही थी। तभी दशरथ की आत्मा ने ...
Widgets Magazine
श्राद्ध पक्ष में अमावस्या का बड़ा महत्व है। आश्विन मास की अमावस्या पितरों की शांति का सबसे अच्छा मुहूर्त है। जिन लोगों ...
'गया तीर्थ में पितरों के लिए पिण्डदान करने से मनुष्य को जो फल प्राप्त होता है, सौ करोड़ वर्षों में भी उसका वर्णन नहीं ...
जिन पितरों और पूर्वजों ने हमारे कल्याण के लिए कठोर परिश्रम किया, हमारे सपनों व सुख-सुविधाओं को पूरा करने में अपना जीवन ...
हमारे शास्त्रों में स्पष्ट निर्देश है कि जो व्यक्ति श्राद्ध में ब्राह्मण भोजन कराने में असमर्थ हों वे 'आमान्न' दान से ...
दक्षिणाभिमुख होकर आकाश केवल दोनों भुजाओं को उठाकर निम्न प्रार्थना करने से भी श्राद्ध की सम्पन्नता होती है।
जब पितृ कुपित होते हैं, प्रसन्न नहीं रहते हैं, तब पितृदोष लगता है। पितृ प्रसन्न होंगे तो आपको माता-पिता बनने का ...
श्राद्ध पक्ष में आने वाली अष्टमी को लक्ष्मी जी का वरदान प्राप्त है। यह दिन विशेष इसलिए भी है कि इस दिन सोना खरीदने का ...
श्राद्ध पक्ष में 16 दिन ही दी जाने वाली धूप से पितृ तृप्त होकर मुक्त हो जाते हैं तथा पितृदोष का समाधान होकर पितृयज्ञ भी ...
यदि किसी जातक की कुंडली में पितृदोष होता है तो उसे अनेक प्रकार की परेशानियां, हानियां उठानी पड़ती हैं। शुभ तथा मांगलिक ...
भादों की पूर्णिमा से आश्विन अमावस्या तक के सोलह दिन पितरों की जागृति के दिन होते हैं जिसमें पितर देवलोक से चलकर पृथ्वी ...
वैसे तो श्राद्ध श्रद्धा का विषय है और पूर्ण श्रद्धाभाव के साथ सम्पन्न करने पर ही फलदायी होता है। लेकिन कुछ विशेष संयोग ...