आज का शेर : मेरी नज़र से

WD|
FILE

मेरी नज़र से न हो दूर एक पल के लिए,
तेरा वुजूद है लाज़िम मेरी ग़ज़ल के लिए।

- क़तील शिफ़ाई


और भी पढ़ें :