बिकवाली के दबाव में शेयर बाजार धराशायी

पुनः संशोधित शुक्रवार, 16 फ़रवरी 2018 (17:00 IST)
मुंबई। विदेशी बाजारों से मिले मजबूत संकेतों के बावजूद पंजाब नेशनल बैंक में हजारों करोड़ रुपए के फर्जी लेनदेन में कई कारोबारियों के संलिप्त होने की खबर से बाजार में खलबली मच गई और का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 286.71 अंक का गोता लगाकर 34,010.76 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 93.20 अंक फिसलकर 10,452.30 अंक पर बंद हुआ।

बाजार पर फिलहाल पीएनबी घोटाला हावी है और इस मामले में कथित रूप से संलिप्त गीतांजलि जेम्स लिमिटेड के शेयरों के भाव 19.94 फीसदी गिर गए। यह बीएसई की सबसे घाटे में रही कंपनी साबित हुई। पीएनबी के शेयर भी गिरावट में रहे।

विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के दम पर सेंसेक्स की शुरुआत तेजी में हुई और यह 34,411.24 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 34,508.24 अंक के उच्चतम स्तर पर पहुंचने के बाद बिकवाली के दबाव में यह 33,957.33 अंक के दिवस के निचले स्तर पर आ गया और अंतत: 0.84 फीसदी लुढ़ककर 34,010.76 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की मात्र छह कंपनियां हरे निशान में रहीं। एनएसई की शुरुआत भी मामूली तेजी के साथ 10,596.20 अंक से हुई। कारोबार के दौरान 10,612.90 अंक के उच्चतम और 10,434.05 अंक के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0.88 फीसदी लुढ़ककर 10,452.30 अंक पर बंद हुआ।

एनएसई की 41 कंपनियां गिरावट में रहीं। बीएसई के 20 में से 19 समूहों के सूचकांक में गिरावट रही। सिर्फ आईटी के सूचकांक में 0.07 फीसदी की तेजी रही। बीएसई में आज कुल 2,918 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें से 711 तेजी में, 2,093 गिरावट में और 114 के शेयरों के भाव अपरिवर्तित रहे।

बड़ी कंपनियों की तरह छोटी और मझोली कंपनियां भी दबाव में रहीं। बीएसई का मिडकैप 1.20 प्रतिशत यानी 200.89 अंक लुढ़ककर 16,602.35 अंक पर और स्मॉलकैप 1.22 प्रतिशत और 222.41 अंक फिसलकर 18,035.75 अंक पर बंद हुआ। (वार्ता)


और भी पढ़ें :