गिरावट से उबरे शेयर बाजार

पुनः संशोधित शुक्रवार, 6 अक्टूबर 2017 (17:34 IST)
मुंबई। अधिकतर विदेशी बाजारों से मिले मजबूत संकेतों के बीच दिग्गज कंपनियों में हुई लिवाली तथा धातु समूहों में रही बढ़त के दम पर बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बुधवार की गिरावट से उबरता हुआ 222.19 अंक के उछाल के साथ 31,814.22 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 91 अंक की बढ़त में 9,979.70 अंक पर बंद हुआ।



बेहतर तिमाही उत्पादन के आंकड़ों के दम पर टाटा स्टील आज सबसे कमाऊ कंपनी साबित हुई। इसी बीच सार्वजनिक बैंकों में सरकार की हिस्सेदारी कम करने के वित्त मंत्रालय के मुख्य आर्थिक सलाहकार संजीव सान्याल के बयान से पीएसयू बैंकों के शेयरों में उछाल आया है। विदेशी पोर्टफोलिया निवेशकों ने भी आज डेट और शेयरों में 17.57 करोड़ डॉलर का निवेश किया। निवेशक फिलहाल वस्तु एवं सेवा कर परिषद की आज होने वाली बैठक के परिणामों की प्रतीक्षा कर रहे हैं।







विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेत के दम पर सेंसेक्स आज 41.31 अंक की बढ़त में 31,633.34 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 31,632.81 अंक के निचले स्तर तक गया और फिर पूरे दिन तेजी में रहा। यह धातु, तेल एवं गैस और बेसिक मटेरियल्स समूहों में हुई लिवाली के दम पर 31,844.28 अंक के उच्चतम स्तर को छूता हुआ अंतत: गत दिवस की तुलना में 0.70 फीसदी की तेजी में 31,814.22 अंक पर बंद हुआ। बीएसई के सभी 20 समूहों के सूचकांक में तेजी रही। सेंसेक्स की 30 में से मात्र पांच कंपनियां हीरो मोटोकॉर्प, डॉ रेड्डीज, एचडीएफसी, पावर ग्रिड और एचडीएफसी बैंक के शेयरों के भाव लुढ़के।

निफ्टी भी सेंसेक्स की तर्ज पर 19.45 अंक की बढ़त में 9,908.15 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 9,906.60 अंक के निचले और 9,989.35 अंक के उच्चतम स्तर को छूता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0.92 फीसदी की बढ़त में 9,979.70 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 51 में से 41 कंपनियां हरे निशान में रहीं।

दिग्गज कंपनियों की अपेक्षा छोटी और मझोली कंपनियों में लिवाली का अधिक जोर रहा। बीएसई का मिडकैप 0.95 फीसदी यानी 148.34 अंक की बढ़त में 15,840.15 अंक पर बंद हुआ और स्मॉलकैप 1.09 फीसदी यानी 180.05 अंक की तेजी में 16,629.23 अंक पर रहा। बीएसई में आज 2,777 कंपनियों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1,698 बढ़त में, 963 गिरावट में रहीं और शेष 116 कंपनियों के शेयरों के भाव अपरिवर्तित रहे। (वार्ता)

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :