सेंसेक्स में तेजी, 107 अंक चढ़ा

पुनः संशोधित मंगलवार, 5 सितम्बर 2017 (17:00 IST)
मुंबई। यूरोपीय बाजारों के शुरुआती कारोबार में तेजी में खुलने और घरेलू बाजार में टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद और रियलिटी सहित 19 समूहों में हुई लिवाली के दम पर बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सोमवार की गिरावट से उबरता हुआ 107.30 अंक चढ़कर 31,809.55 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 39.35 अंक की बढ़त लेकर 9,952.20 अंक पर रहा।
बीएसई का सेंसेक्स 52.91 अंक की बढ़त में 31,755.16 अंक पर खुला। निक्केई द्वारा जारी सेवा क्षेत्र के पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (पीएमआई) से मिले नकारात्मक संकेतों से एक समय बाजार कमजोर भी पड़ा और 31,674.23 अंक के निचले स्तर तक चला गया। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू होने के बाद लगातार दूसरे महीने अगस्त में देश के सेवा क्षेत्र में नए ऑर्डरों में गिरावट का क्रम जारी रहा और इसका पीएमआई 47.5 दर्ज किया गया। जुलाई में पीएमआई 45.9 रहा था।
रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में आई तेजी से कारोबार के उत्तरार्द्ध में बाजार ने वापसी की और सेंसेक्स 31,674.23 अंक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। अंतत: यह गत दिवस की तुलना में 0.34 प्रतिशत ऊपर 31,809.55 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से 12 कंपनियां आज लाल निशान में रही, जबकि कोल इंडिया सबसे अधिक मुनाफा कमाने वाली कंपनी रही। बीएसई के 20 में से मात्र एक समूह दूरसंचार के सूचकांक में गिरावट दर्ज की गई।
निफ्टी भी सेंसेक्स की तरह 20.40 अंक की तेजी में 9,933.25 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 9,901.05 अंक के निचले और 9,963.10 अंक के उच्चतम स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0.40 फीसदी चढ़कर 9,952.20 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 51 में से 31 कंपनियां हरे निशान में रहीं।

दिग्गज और मंझोली कंपनियों की तुलना में छोटी कंपनियों में लिवाली का जोर अधिक रहा। बीएसई का मिड कैप 0.63 फीसदी यानी 97.73 अंक की बढ़त में 15,678.15 अंक पर और स्मॉलकैप 1.03 फीसदी यानी 165.07 अंक की बढ़त में 16,195.22 अंक पर बंद हुआ।
बीएसई में कुल 2,708 कंपनियों में कारोबार हुआ। इनमें से 1,651 कंपनियों के शेयरों में तेजी और 905 में गिरावट और 152 के भाव अपरिवर्तित रहे। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :