जीएसटी पर स्थिति साफ होने से शिखर पर बाजार

पुनः संशोधित सोमवार, 19 जून 2017 (17:22 IST)
मुंबई। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को 1 जुलाई से ही लागू करने के साथ कारोबारियों की चिंताओं के समाधान के लिए भी वक्त मुहैया करा देने की सरकार की घोषणा से सोमवार को शेयर बाजारों ने ऊंची छलांग लगाकर इसका स्वागत किया।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 0.82 प्रतिशत यानी 255.17 अंक उछलकर अब तक के रिकॉर्ड स्तर 31,311.57 अंक पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 0.72 प्रतिशत यानी 69.50 अंक की बढ़त के साथ 9 जून के बाद के उच्चतम स्तर 9,657.55 अंक पर रहा।

जीएसटी परिषद की 17वीं बैठक के बाद वित्तमंत्री अरुण जेटली ने रविवार को बताया कि जीएसटी 1 जुलाई से ही लागू होगा। हालांकि करदाताओं द्वारा इसके लिए तैयार नहीं होने को लेकर जताई जा रही चिंता का भी सरकार ने ध्यान रखा है और जुलाई तथा अगस्त महीने के लिए विस्तृत इनवॉयस के साथ रिटर्न भरने की तिथि में छूट दी है। इससे सरकार और अर्थव्यवस्था के प्रति निवेशकों का विश्वास बढ़ने से शेयर बाजारों में तेजी देखी गई।
सेंसेक्स 110.58 अंक की तेजी के साथ 31,168.98 अंक पर खुला। शुरुआत में ही 31,163.35 अंक के दिवस के निचले स्तर तक उतरने के बाद यह पूरे दिन हरे निशान में रहे। बाजार बंद होने से पहले दिग्गज कंपनियों में लिवाली और तेज हो गई। सूचकांक 31,362.15 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर से होता हुआ कारोबार की समाप्ति पर गत दिवस की तुलना में 255.17 अंक ऊपर 31,311.57 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की 30 में से 20 कंपनियों के शेयर बढ़त में रहे। अदानी पोर्ट्स के शेयर तीन प्रतिशत से ज्यादा चढ़े। एक्सिस बैंक में भी लगभग दो प्रतिशत की तेजी देखी गई। वहीं इंफोसिस एक प्रतिशत से ज्यादा का नुकसान उठाने वाली सेंसेक्स की अकेली कंपनी रही।

निफ्टी का ग्राफ भी सेंसेक्स जैसा ही रहा। यह 38.35 अंक चढ़कर 9,626.40 अंक पर खुला और कारोबार के दौरान 9,614.90 अंक के दिवस के न्यूनतम और 9,673.30 अंक के निचले स्तर से होता हुआ पिछले कारोबारी दिवस के मुकाबले 69.50 अंक ऊपर 9,657.55 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 51 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 33 हरे और 17 लाल निशान में रहीं जबकि एक में कोई बदलाव नहीं हुआ।

बीएसई की 2,859 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,197 के शेयर तेजी में और 1,468 के गिरावट में रहें जबकि 194 में कोई बदलाव नहीं हुआ। मझौली कंपनियों में लिवाली कम रही जबकि छोटी कंपनियों में निवेशकों ने बिकवाली की। बीएसई का मिडकैप 0.07 प्रतिशत चढ़कर 14,817.74 अंक पर रहा। स्मॉलकैप 0.08 प्रतिशत की गिरावट के साथ 15,639.22 अंक पर बंद हुआ। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :