राफेल नडाल रिकॉर्ड 11वीं बार बने फ्रेंच ओपन चैंपियन

Last Updated: रविवार, 10 जून 2018 (22:16 IST)
पेरिस। विश्व के नंबर एक खिलाड़ी स्पेन के ने रविवार को ऑस्ट्रिया के डॉमिनिक थिएम के खिलाफ किसी आम मैच की तरह फ्रेंच ओपन का फाइनल मुकाबला खेला और लगातार सेटों में 6-4, 6-3, 6-2 से जीत अपने नाम करते हुए 11वीं बार रोलां गैरों का खिताब अपने नाम कर लिया।
शीर्ष वरीय स्पेनिश खिलाड़ी की तीसरे सेट में दो बार थिएम ने सर्विस ब्रेक की लेकिन फिर उन्होंने 40-0 से बढ़त बनाई और तीन मैच पॉइंट जीते। थिएम ने वापसी की कोशिश की लेकिन नडाल ने पांचवें मैच पॉइंट पर जीत अपने नाम कर ली।

पहली बार ग्रैंड स्लेम फाइनल खेल रहे ऑस्ट्रियाई खिलाड़ी ने पहले दो सेट 6-4, 6-3 से आसानी से जीते जबकि थिएम काफी दबाव में दिखे। स्पेनिश खिलाड़ी को 30-0 के स्कोर पर कुछ अनफिट भी दिखे और उन्होंने रैकेट तक नहीं पकड़ पाने की शिकायत करते हुए ट्रेनर को बुलाया।

संक्षिप्त ब्रेक के बाद लौटे नडाल फिर पूरे जोश में दिखे और 3-1 से बढ़त बना ली। नडाल ने इसके बाद अपनी लय बनाए रखी और लगातार सेटों में जीत अपने नाम की। स्पेनिश खिलाड़ी ने पहला सेट 59 मिनट, दूसरा सेट 52 मिनट और तीसरा सेट 51 मिनट में जीता।

नडाल इसी के साथ महिला और पुरुष दोनों वर्गों में दुनिया के पहले टेनिस खिलाड़ी बन गए हैं जिन्होंने तीन अलग अलग टूर्नामेंटों को 11-11 बार जीता है। 32 साल के नडाल ने इससे पहले बार्सिलोना और मोंटे कार्लो में भी इतने ही खिताब जीते हैं। वह इसी के साथ अपनी शीर्ष एटीपी रैंकिंग पर भी बरकरार रहेंगे, वहीं नडाल को क्ले कोर्ट पर दो बार हराने वाले एकमात्र खिलाड़ी थिएम मैच में कई गलतियां कर बैठे और अपने पहले ग्रैंड स्लेम से चूक गए।

10 बार फ्रेंच ओपन चैंपियन बन चुके स्पेनिश खिलाड़ी दुनिया के मात्र दूसरे टेनिस खिलाड़ी भी बन गए हैं जिन्होंने करियर में एक ही ग्रैंड स्लैम 11 बार जीता है। उनसे पहले यह उपलब्धि महिला खिलाड़ी मार्गेट कोर्ट के नाम दर्ज है जिन्होंने 1974 से पूर्व 11 बार ऑस्ट्रेलियन ओपन महिला एकल खिताब जीता था।

32 साल के नडाल 11वीं बार फ्रेंच ओपन के फाइनल में पहुंचे थे। वे टेनिस के ओपन युग में 11 बार किसी एक ग्रैंड स्लेम के फाइनल में पहुंचने वाले दूसरे खिलाड़ी बन गए हैं। स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर विंबलडन के फाइनल में 11 बार पहुंचे हैं और उन्होंने सात बार खिताब जीते हैं।

फ्रेंच ओपन में नडाल की जीत का सिलसिला 86 मैच पहुंच गया है। नडाल के फाइनल के प्रतिद्वंद्वी थिएम ने पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम के फाइनल में जगह बनाई थी और वे इसके साथ ही ग्रैंड स्लेम फाइनल में पहुंचने वाले दूसरे ऑस्ट्रियाई खिलाड़ी बने। थिएम 1995 में थामस मस्टर के बाद किसी ग्रैंड स्लैम फाइनल में पहुंचने वाले पहले ऑस्ट्रियाई खिलाड़ी हैं लेकिन खिताब से चूक गए। (भाषा)


और भी पढ़ें :