Widgets Magazine

विंबलडन : फेडरर 16वीं बार क्वार्टर फाइनल में, महिला वर्ग में सभी टॉप 10 खिलाड़ी बाहर

मयंक मिश्रा| पुनः संशोधित मंगलवार, 10 जुलाई 2018 (15:05 IST)
फेडरर विज्ञापनों से कमाई के मामले में दुनिया में नंबर 1 खिलाडी हैं। उन्होंने इसमें लेब्रोन, रोनाल्डो, टाइगर वुड्स जैसे खिलाडियों को काफी पीछे छोड़ दिया है। फेडरर हाल ही में हुए यूनिक्लो से करार के बाद से दुविधा में हैं। यूनिक्लो ने फेडरर से लगभग 300 मिलियन डॉलर का करार किया है।

यूनिक्लो ने कुछ साल पहले इंडोनेशिया में एक कंपनी से अचानक करार तोड़ दिया था। जिसके चलते उस कंपनी पर ताला लग गया। और वहां काम कर रहे वर्कर्स को सैलरी तक नहीं मिल पाई है। उन वर्कर्स का लगभग 5 मिलियन डॉलर का वेतन चुकाया जाना बाकी है। इन वर्कर्स के लिए में लोग फेडरर से सपोर्ट की उम्मीद लगाए हुए हैं की वे यूनिक्लो पर कुछ दबाव बना पाएं और जल्द ही वर्कर्स को उनकी बकाया रकम मिल पाए, या फिर यह रकम वे ही चुका दें। इस मामले में फेडरर की तरफ से फिलहाल कोई बयान नहीं आया है।
विंबलडन में वर्कर्स की परेशानियों को लेकर एक और बात जारी है। वो है यहां इस्तेमाल की जाने वाली बॉल कंपनी स्लेजेंगेर का फिलीपींस में अपने कर्मचारियों को हर दिन मुश्किल से 5 पाउंड की सैलरी देना। जबकि विंबलडन में बॉल बॉय को 200 पाउंड से ज्यादा दिया जाता है। ऐसे में विंबलडन से उम्मीद की जा रही है की वे इस बात को लेकर स्लेजेंगेर कंपनी पर दबाव बनाएं ताकि फिलीपींस में वर्कर्स को ठीक सैलरी मिल पाए।

इन सब दबाओं के बीच सेंटर कोर्ट पर फेडरर, सेरेना और नडाल पर सोमवार को कोई दबाव नहीं था। फेडरर ने मेनेरीनो के खिलाफ पहला सेट 16 मिनट में ही जीत लिया था। इसके बाद जरूर मेनेरीना ने मैच को इतना आसान नहीं होने दिया। फेडरर की सर्विस को वे कोई मुश्किलें नहीं दे पाए। हालांकि उनके एक ड्रॉप शॉट को नहीं उठा पाने के चलते फेडरर खासे नाराज हुए थे और उनको अपशब्द कहते हुए भी पाया गया था।
शायद यही एक मौका था जिस पर फेडरर का कोई कंट्रोल नहीं था। बाकि पूरा मैच उनके हाथ में शुरुआत से ही रहा था। ऐसा ही कुछ हाल सेरेना का भी था। प्लिसकोवा के हारने के साथ महिलाओं की सभी खिलाडी बाहर हो गई हैं। सेरेना हर गुजरते मैच के साथ ख़िताब की और मजबूत दावेदार बनती जा रहीं हैं।

सोमवार के मैच में रोडिना ने दूसरे सेट में सेरेना की सर्विस एक बार ब्रेक की, इसके अलावा उनके पास मैच में याद रखने लायक ज्यादा नहीं था। सेरेना लगातार दो दिन मैच जीतने के रिकॉर्ड में ज्यादा अच्छी नहीं है क्योंकि उन्होंने हाल ही में ग्रैंड स्लैम के अलावा कम ही टूर्नामेंट खेलें हैं। आज होने वाले क्वाटर फ़ाइनल में उनके खिलाफ बस यही बात जाती है।

सेरेना के खिलाफ जो हाल रोडिना का था वैसा ही कुछ नडाल के खिलाफ वेसेली का भी था। नडाल की सर्विस उन्होंने भी एक बार ब्रेक की थी बाकि पूरा मैच नडाल ने अपनी मर्जी के मुताबिक ही खेला। सेंटर कोर्ट जैसा ही हाल कोर्ट नंबर 1 का भी रहा। कर्बर ने बेंचिच को हराया। वहीँ वरीयता में ऊपर एंडरसन ने मोफिल्स को चार सेटों में हराया।

जोकोविच ने केरन को सीधे सेटों में हराया। जोकोविच को पहले सेट में अच्छी टक्कर मिली थी। मगर जोकोविच ने केरन के शॉट्स झेल लिए। उनका मूवमेंट कोर्ट पर देखने लायक था। वे केरन की तेज सर्विस को भी बढ़िया से लौटा पा रहे थे। सोमवार के अपने प्रदर्शन के बाद जोकोविच ने खुद की दावेदारी काफी मजबूत कर ली है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :