0

दीपावली का वास्तविक अर्थ समझें

सोमवार,अक्टूबर 16, 2017
0
1

दीपावली : जैन धर्म में अलग अंदाज

गुरुवार,अक्टूबर 12, 2017
जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर को निर्वाण प्राप्त हुआ था। इसी दिन भगवान महावीर के प्रमुख गणधर गौतम स्वामी को ...
1
2
विश्व-वंदनीय जैन संत आचार्यश्री 108 विद्यासागरजी महाराज भारत भूमि के प्रखर तपस्वी, चिंतक, कठोर साधक, लेखक हैं। जानिए ...
2
3
क्षमा शब्द मानवीय जीवन की आधारशिला है। जिसके जीवन में क्षमा है, वही महानता को प्राप्त कर सकता है। क्षमावाणी हमें झुकने ...
3
4
पयुर्षण पर्व को जैन धर्म में सभी पर्वों का 'राजा' माना जाता है। इस पर्व की विशेष महत्ता के कारण ही इस पर्व को 'राजा' ...
4
4
5
प्रतिवर्ष दसलक्षण (पयुर्षण) महापर्व के अंतर्गत आने वाली भाद्रपद शुक्‍ल दशमी को दिगंबर जैन समाज में सुगंध दशमी का पर्व ...
5
6
प्रतिवर्ष की तरह दिगंबर जैन समुदाय के पर्युषण पर्व यानी दशलक्षण पर्व शनिवार, 26 अगस्त से शुरू हो गए हैं। आत्मचिंतन का ...
6
7
जैन धर्म की परंपरा के अनुसार पर्युषण पर्व के अंतिम दिन क्षमा, अहिंसा और मैत्री का पर्व संवत्सरी आता है। संवत्सरी पर्व ...
7
8
एक समय उज्जैनी नगरी में एक सागरदत्त नाम का सेठ रहता था। उसके छप्पन करोड़ दीनारों की लक्ष्मी देशांतरों में माल भरकर उसके ...
8
8
9
दिगंबर जैन धर्मावलंबियों का रोट तीज पर्व गुरुवार, 24 अगस्त 2017 को मनाया जाएगा। इस अवसर पर दिगंबर जैन मंदिरों में 24 ...
9
10
रोटतीज का व्रत भाद्रपद शुक्ल तृतीया को मनाया जाता है। जैन धर्म में रोटतीज व्रत का बहुत महत्व है। यह व्रत करने से मानसिक ...
10
11
श्वेतांबर जैन समाज के पर्युषण महापर्व के तहत मंगलवार, 22 अगस्त 2017 को भगवान महावीर का जन्मवाचन समारोह धूमधाम से मनाया ...
11
12
श्वेतांबर जैन समाज के 8 दिवसीय पर्वाधिराज पर्युषण शुक्रवार से शुरू हो गए हैं। ये पर्युषण 18 से 25 अगस्त 2017 तक ...
12
13
सागर। मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड अंचल के संभागीय मुख्यालय सागर में स्थित सिद्धायतन की सिद्ध भगवान की प्रतिमा गिनीज बुक ऑफ ...
13
14
जैन धर्म के अनुसार श्रावण शुक्ल सप्तमी के दिन तेईसवें तीर्थंकर भगवान पार्श्वनाथ के मोक्ष कल्याणक दिवस मनाया जाता है। ...
14
15
आज जैन दिगम्बर संत आचार्यश्री विद्यासागरजी की दीक्षा के 50 वर्ष पूरे हो गए हैं। दीक्षा के 50 वर्ष पूर्ण होने के इस मौके ...
15
16
जैन धर्म में ज्येष्ठ माह, शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को 'श्रुत पंचमी' (Shruti Panchami, ज्ञान पंचमी) का पर्व मनाया जाता ...
16
17
णमोकार महामंत्र को जैन धर्म का परम पवित्र और अनादि मूल मंत्र माना जाता है। इसमें किसी व्यक्ति का नहीं, किंतु संपूर्ण ...
17
18
जैन मान्यता है कि पूर्णता प्राप्त करने से पूर्व तक तीर्थंकर मौन रहते हैं। अत: आदिनाथ को एक वर्ष तक भूखे रहना पड़ा। इसके ...
18
19
जैन धर्म में अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) का विशेष महत्व है। इसी दिन जैन धर्म के पहले तीर्थंकर भगवान ऋषभदेव का प्रथम ...
19