विदेशी भूमि पर कैसे करें पूजन, जानिए होलिकादहन के शुभ मुहूर्त...


- श्री रामानुज 
 
अक्सर त्योहारों का मौसम आरंभ होते ही विदेशों में बैठे भारतीयों को भारत की याद सताने लगती है। क्योंकि जो पूजन-अर्चन और देव-धरम का पावन वातावरण भारत में होता है वह विदेशी धरा पर नहीं मिल पाता। हालांकि विदेश में बसे भारतीय आपस में मिलकर अपना माहौल बना ही लेते हैं लेकिन सबसे ज्यादा परेशानी उन्हें पूजन के मुहूर्त को जानने में आती है...। यहां विदेशों में रह रहे भारतीयों के लिए प्रस्तुत हैं होलिकादहन के शुभ मुहूर्त... 
इस वर्ष होलिकादहन पर भद्रा का साया नहीं है। इसके अलावा एक विशेष सर्वार्थ सिद्धि योग भी पड़ रहा है, जो 13 घंटे तक रहेगा। विद्वानों के अनुसार यह सर्वार्थ सिद्धि योग श्रेष्ठ है। सर्वार्थ सिद्धि योग सभी कार्यों को सिद्ध करने वाला है। इस वर्ष होलिकादहन 12 मार्च, रविवार को होगा तत्पश्चात सोमवार को रंग खेला जाएगा। 
शास्त्रों के अनुसार होलिकादहन प्रदोषकाल में किया जाना सर्वश्रेष्ठ है। सूर्योदय से रात 8.23 बजे तक पूर्णिमा तिथि रहेगी। शाम 5.40 से अगले दिन सुबह 6.53 बजे तक सर्वार्थ सिद्धि योग रहेगा। हालांकि होलिकादहन अलग-अलग मुहूर्त में कभी भी किया जा सकता है, परंतु प्रदोषकाल सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त माना जाता है।
 
आगे पढ़ें होलिकादहन के मुहूर्त... 
 
 

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

ग़ज़ल : दर पे खड़ा मुलाकात को...

ग़ज़ल : दर पे खड़ा मुलाकात को...
दर पे खड़ा मुलाकात को तुम आती भी नहीं, शायद मेरी आवाज़ तुम तक जाती भी नहीं।

घर को कैंडल्स से ऐसे सजाएं

घर को कैंडल्स से ऐसे सजाएं
जब भी घर, कमरा या टेबल सजाने की बात आती है तब कैंडल्स का जिक्र न हो, ऐसा शायद ही हो सकता ...

अपना आंगन यूं सजाएं फूलों की रंगोली से...

अपना आंगन यूं सजाएं फूलों की रंगोली से...
रंगोली केवल व्रत-त्योहार पर ही नहीं बनाई जाती, बल्कि इसे घर के बाहर व अंदर हमेशा ही बनाया ...

भोजन के बाद भूलकर भी ना करें यह 5 काम, वर्ना सेहत होगी ...

भोजन के बाद भूलकर भी ना करें यह 5 काम, वर्ना सेहत होगी बर्बाद
आइए जानें कि 5 कौन से ऐसे काम हैं जो भोजन के तुरंत बाद नहीं करना चाहिए ....

बाल गीत : बनकर फूल हमें खिलना है...

बाल गीत : बनकर फूल हमें खिलना है...
आसमान में उड़े बहुत हैं, सागर तल से जुड़े बहुत हैं। किंतु समय अब फिर आया है, हमको धरती चलना ...

साहसिक कारनामा: 6 महिला, उफनता समुद्र,1 कश्ती से की दुनिया ...

साहसिक कारनामा: 6 महिला, उफनता समुद्र,1 कश्ती से की दुनिया की सैर
हम बात कर रहे हैं नौसेना की जांबाज महिला अफसरों के उस दल की जिन्होंने छोटी पाल नौका से ...

बुध का वृषभ राशि में आगमन, क्या होगा आपकी राशि पर असर

बुध का वृषभ राशि में आगमन, क्या होगा आपकी राशि पर असर
27 मई से बुध वृषभ राशि, भरणी नक्षत्र में प्रवेश करेगा, जिसके परिणाम स्वरूप आपकी राशि पर ...

जयपुर की महिलाएं हरियाणा के करनाल में 'राष्ट्रीय गौरव ...

जयपुर की महिलाएं हरियाणा के करनाल में 'राष्ट्रीय गौरव अवार्ड' से सम्मानित
राजस्थान के जयपुर की समाज प्रसिद्ध महिलाएं 'राष्ट्रीय गौरव अवार्ड' से हरियाणा के करनाल ...

सनग्लासेस पहनने के 4 फायदे...

सनग्लासेस पहनने के 4 फायदे...
सही चश्‍मा पहनते ही हम एकदम से स्टाइलिश और फैशनेबल दिखने लगते हैं। चश्मे हमें केवल अच्छा ...

बहुत खास है बुधादित्य योग, 27 मई से मिलेगा 12 राशियों को ...

बहुत खास है बुधादित्य योग, 27 मई से मिलेगा 12 राशियों को शुभाशुभ फल
27 मई को बुध अपनी राशि परिवर्तन कर वृष राशि में प्रवेश करेंगे। आइए जानते हैं कि किन-किन ...