Widgets Magazine

विदेशी भूमि पर कैसे करें पूजन, जानिए होलिकादहन के शुभ मुहूर्त...

- श्री रामानुज 


 
अक्सर त्योहारों का मौसम आरंभ होते ही विदेशों में बैठे भारतीयों को भारत की याद सताने लगती है। क्योंकि जो पूजन-अर्चन और देव-धरम का पावन वातावरण भारत में होता है वह विदेशी धरा पर नहीं मिल पाता। हालांकि विदेश में बसे भारतीय आपस में मिलकर अपना माहौल बना ही लेते हैं लेकिन सबसे ज्यादा परेशानी उन्हें पूजन के मुहूर्त को जानने में आती है...। यहां विदेशों में रह रहे भारतीयों के लिए प्रस्तुत हैं होलिकादहन के शुभ मुहूर्त... 
इस वर्ष होलिकादहन पर भद्रा का साया नहीं है। इसके अलावा एक विशेष सर्वार्थ सिद्धि योग भी पड़ रहा है, जो 13 घंटे तक रहेगा। विद्वानों के अनुसार यह सर्वार्थ सिद्धि योग श्रेष्ठ है। सर्वार्थ सिद्धि योग सभी कार्यों को सिद्ध करने वाला है। इस वर्ष होलिकादहन 12 मार्च, रविवार को होगा तत्पश्चात सोमवार को रंग खेला जाएगा। 
शास्त्रों के अनुसार होलिकादहन प्रदोषकाल में किया जाना सर्वश्रेष्ठ है। सूर्योदय से रात 8.23 बजे तक पूर्णिमा तिथि रहेगी। शाम 5.40 से अगले दिन सुबह 6.53 बजे तक सर्वार्थ सिद्धि योग रहेगा। हालांकि होलिकादहन अलग-अलग मुहूर्त में कभी भी किया जा सकता है, परंतु प्रदोषकाल सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त माना जाता है।
 
आगे पढ़ें होलिकादहन के मुहूर्त... 
 
 
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine