Widgets Magazine
0

शनिदेव के 11 चमत्कारी टोटके एवं उपाय करेंगे कार्यसिद्धि...

शनिवार,अप्रैल 21, 2018
0
1
अतिथि कौन? वेदों में कहा गया है कि अतिथि देवो भव: अर्थात अतिथि देवतास्वरूप होता है। अतिथि के लक्षण....
1
2
12 राशियां स्वभावत: जिन-जिन रोगों को उत्पन्न करती हैं, वे इस प्रकार हैं-
2
3
श्री रामानुजाचार्य का जन्म सन् 1017 में श्री पेरामबुदुर (तमिलनाडु) के एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम ...
3
4
मांग में सिंदूर सजाना एक वैवाहिक संस्कार है। सौभाग्यवती स्त्रियां मांग में जिस स्थान पर सिंदूर सजाती हैं, वह स्थान ...
4
4
5
रोजमर्रा में हम ऐसी गलतियां करते हैं जो वास्तु के अनुसार सही नहीं होती। आइए जानते हैं कुछ आसान टिप्स जिनसे घर में ...
5
6
बगलामुखी साधना दस महाविद्याओं में से एक है। मां बगलामुखी की साधना बाहरी नजर तथा शत्रु बाधा से मुक्ति के लिए बहुत ही ...
6
7
सतयुग में एक समय भीषण तूफान उठा। इसके परिणामों से चिंतित हो भगवान विष्णु ने तप करने की ठानी। उन्होंने सौराष्ट्र प्रदेश ...
7
8
श्रेष्ठ संतान के जन्म के लिए आवश्यक है कि 'गर्भाधान' संस्कार श्रेष्ठ मुहूर्त में किया जाए। 'गर्भाधान' कभी भी क्रूर ...
8
8
9
कला, धन, सौन्दर्य के कारक ग्रह शुक्र ने 20 अप्रैल, शुक्रवार को सुबह 2 बजे वृषभ राशि में प्रवेश कर लिया है, जो 14 मई तक ...
9
10
शुक्र ने अपनी स्वराशि वृषभ में प्रवेश कर लिया है। शुक्र को सौंदर्य, भोग-विलास, दांपत्य-सुख एवं शैया सुख का कारक ग्रह ...
10
11
नजर लगे व्यक्ति को पान में गुलाब की सात पंखुड़ियां रखकर खिलाए। नजर लगा हुआ व्यक्ति इष्ट देव का नाम लेकर पान खाए। बुरी ...
11
12
जीवन की कोई भी शुभ या अशुभ घटना राहु और केतु की दशा या अंतरदशा में घटित हो सकती है। यह घटना राहु या केतु का संबंध किसी ...
12
13

मां बगलामुखी की पौराणिक कथा

गुरुवार,अप्रैल 19, 2018
मां देवी बगलामुखीजी के संदर्भ में एक पौराणिक कथा के अनुसार एक बार सतयुग में महाविनाश उत्पन्न करने वाला ब्रह्मांडीय ...
13
14
वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को गंगा सप्तमी कहा जाता है। इस वर्ष ये तिथि 22 अप्रैल 2018, रविवार को है। गंगा ...
14
15
कई बार ग्रह-नक्षत्र या दोष की वजह से व्यक्ति को मेहनत का पूर्ण फल प्राप्त नहीं हो पाता। इसीलिए किसी भी कार्य में सफलता ...
15
16
सोमवार, 23 अप्रैल 2018 को बगलामुखी जयंती है। मां बगलामुखी की साधना शत्रु बाधा से मुक्ति के लिए बहुत ही कारगर व अचूक ...
16
17
ज्यादातर ज्योति‍षी का मानना है कि अगर कुंडली में मंगल कमजोर हो तो गुरुवार का दिन प्रतिकूल रहता है। आप भी अपने सप्ताह पर ...
17
18
विद्यार्थी को इस मंत्र को प्रत्येक दिन नहा-धोकर पवित्र आसन पर बैठकर धूप दीप जलाकर भक्तिपूर्वक 21 बार जाप करना चाहिए।
18
19
जैन धर्म के प्रथम तीर्थंकर भगवान आदिनाथ को एक वर्ष तक भूखे रहना पड़ा। इसके बाद वे अपने पौत्र श्रेयांश के राज्य ...
19