कश्मीर में तेज हुआ राजनीतिज्ञों को डराने-धमकाने का सिलसिला

सुरेश एस डुग्गर|
श्रीनगर। कश्मीर में आतंकियों ने राजनीतिज्ञों पर हमले कर उनकी जान लेने के साथ ही अब उन्हें डराने-धमकाने का सिलसिला तेज कर दिया है। ऐसे में आशंका यह प्रकट की जा रही है कि जिस तरह से आतंकी पंचायत सदस्यों को डरा-धमका रहे हैं, उससे अगले कुछ महीनों में होने वाले पंचायत चुनाव जरूर प्रभावित होंगे।
कश्मीर के शोपियां सेक्टर में आतंकवादियों ने सियासी पार्टियों के नेताओं और वर्कर्स को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। सोमवार को मीडिया के पास एक वीडियो पहुंचा है जिससे यहां पर आतंकवादियों की दरिंदगी साफ जाहिर हो रही है। इससे इलाके में दहशत का माहौल बरकरार है। मीडिया के पास पहुंची वीडियो में आतंकवादी वहां की स्थानीय भाषा में बात कर रहे हैं। आतंकवादियों ने पार्टी के वर्कर की सबसे पहले कमीज उतरवाई।
दक्षिण कश्मीर में लोगों को डरा-धमका उन्हें सुरक्षाबलों से दूर रखने की अपनी साजिश के तहत सोमवार को आतंकियों ने एक पूर्व डिप्टी सरपंच को यातनाएं देते हुए वीडियो जारी किया है। आज सुबह से सोशल मीडिया पर लगातार वायरल हो रहे इस वीडियो का संज्ञान लेते हुए पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरु कर दी है।

हालांकि पीड़ित का नाम पता नहीं चल पाया है, लेकिन संबधित सूत्रों ने बताया कि जिस व्यक्ति को आतंकी अधनंगा कर पीटते हुए धमका रहे हें, वह जिला शोपियां के अंतर्गत एक पंचायत का पूर्व डिप्टी सरपंच रह चुका है। आतंकी उसको धमकाते हुए कह रहे हैं कि वह तौबा करे। सियासी गतिविधियों से दूर रहो, अगर सियासत में आने का शौक है तो अभी पूरा करते हैं। माफी मांगो, लेकिन शोर मत करो। पुलिसवालों का भी यही हाल करेंगे। सियासत और पुलिस से दूर रहो।
हालांकि स्थानीय वर्कर उसे माफ करने के लिए गिड़गिड़ाता रहा, लेकिन आतंकवादी जुल्म पर जुल्म करते ही रहे। सियासी पार्टी के वर्कर की सबसे पहले दिखाए गए वीडियो में कमीज उतारी जाती है। इस दौरान आतंकवादी उस वर्कर को गालियां भी देते हुए सुनाई दिए। आतंकवादियों ने कार्यकर्ता के ऊपर कई एके-47 तान रखी थी। आतंकवादियों ने कार्यकर्ता के सिर पर गन की नोक लगा रखी थी। हाथ जोड़कर बैठे हुए वर्कर पर आतंकवादियों ने कई तरह के जुल्म ढाए। आतंकवादी उससे कश्मीरी भाषा में बात कर रहे थे। इससे जाहिर हो रहा है कि ये आतंकवादी बाहर के नहीं, बल्कि कश्मीरी ही हो सकते हैं।
जैसे ही कार्यकर्ता मुर्गा बनता है आतंकवादियों ने उस पर अनगिनत किकें मारना शुरू कर दीं। इस बीच दोबारा कार्यकर्ता उसे माफ करने के लिए कहता हुआ नजर आया, लेकिन आतंकवादियों ने उसे दोबारा मुर्गा बना दिया और लातें बरसाना शुरू कर दिया। आतंकवादी इस बीच उसे बार-बार नाक पर थूक लगाने के लिए मजबूर करते रहे और कार्यकर्ता नाक पर थूक लगाता रहा। इस बीच कार्यकर्ता को आतंकवादी सियासत न करने की भी हिदायत देते हुए नजर आए।
वीडियो में आतंकी उक्त व्यक्ति को मुर्गा बनाते और लातें मारते हुए भी दिखाई देते हैं, लेकिन किसी आतंकी का चेहरा सामने नजर नहीं आता, सिर्फ उनकी एसाल्ट राइफलें और ग्रामीण पर बरसती उनकी लातें ही नजर आती हैं।
यहां यह बताना असंगत नहीं होगा कि शोपियां में बीते तीन दिनों से सुरक्षाबलों द्वारा लगातार आतंकियों के खिलाफ कासो चलाया जा रहा है, लेकिन आतंकियों ने इस वीडियो को जारी कर सुरक्षाबलों द्वारा आतंकियों के मनोबल को तोड़ने के किए जा रहे दावों की हवा निकाल दी है। राजनीतिक दलों का मानना है कि आतंकियों की इस कार्रवाई से राजनीतिक कार्यकर्ताओं का मनोबल गिरेगा और अगले कुछ महीनों में होने जा रहे पंचायत चुनावों पर इसका बुरा असर पड़ेगा।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :