हरियाणा में 19 वर्षीय लड़की से सामूहिक बलात्कार, आरोपी फरार

Last Updated: शुक्रवार, 14 सितम्बर 2018 (19:14 IST)
चंडीगढ़। हरियाणा के महेन्द्रगढ़ जिले में नशीला पदार्थ खिलाकर 19 वर्षीय एक लड़की से करने के तीनों आरोपी फरार हैं। यह बात पुलिस ने शुक्रवार को कही। 2 दिन पहले कनीना बस अड्डे से लड़की का कथित तौर पर उस समय अपहरण कर लिया गया था, जब वह कोचिंग सेंटर से घर लौट रही थी।

सरकार से पुरस्कार प्राप्त स्कूल टॉपर पीड़िता की मां ने कहा कि उसकी बेटी से 3 से ज्यादा लोगों ने बलात्कार किया। उन्होंने कहा कि उनकी बेटी घटना के चलते सदमे की स्थिति में है और आरोपी अब भी खुलेआम घूम रहे हैं।

पीड़िता की मां ने रेवाड़ी जिले में अपने गांव में संवाददताओं से कहा कि सरकार 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' की बात करती है, लेकिन हमारी लड़कियों को शिक्षा ग्रहण करने के लिए क्या यह कीमत चुकानी पड़ेगी? आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं, लेकिन पुलिस उन्हें पकड़ने में नाकाम रही है।
उन्होंने अपनी बेटी के साथ हुई घटना का ब्योरा देते हुए कहा कि उनकी बेटी का बुधवार को दोपहर बाद उस समय अपहरण कर लिया गया, जब वह कोचिंग के लिए गई थी। अपहरण के बाद एक ट्यूबवेल के पास एक एकांत जगह पर उससे बलात्कार किया गया।

पीड़िता की मां ने कहा कि पुलिस कोई भी कार्रवाई करने में विफल रही है। हमें शिकायत दर्ज कराने के लिए इधर-उधर भटकना पड़ा। प्राथमिकी रात 1 बजे दर्ज की गई, क्योंकि पुलिस रेवाड़ी और कनीना के चक्कर में अधिकार क्षेत्र को लेकर उलझी रही तथा हम सभी न्याय चाहते हैं।
महेन्द्रगढ़ के पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार ने कहा कि आरोपी फरार हैं और उन्हें गिरफ्तार करने के प्रयास जारी हैं। कुमार ने कहा कि रेवाड़ी पुलिस द्वारा बृहस्पतिवार को हमें स्थानांतरित की गई जीरो प्राथमिकी में 3 लोगों के नाम लिखाए गए हैं।

कनीना थाने के प्रभारी निरीक्षक अनिरुद्ध ने बताया कि 20-25 साल की उम्र के आरोपी युवक पीड़िता के ही गांव के रहने वाले हैं। प्राथमिकी के अनुसार बुधवार को युवती कोचिंग क्लास लेने गई थी, जहां दोपहर बाद उसका उस समय अपहरण कर लिया गया, जब वह कनीना में बस अड्डे पर बस का इंतजार कर रही थी।
पीड़िता ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि कार में पहुंचे आरोपियों ने उसका अपहरण कर लिया और उसे एकांत स्थान पर ले गए। वहां उन्होंने उसे नशीला पदार्थ मिली कोल्ड ड्रिंक पिलाई और सामूहिक बलात्कार किया। आरोपी बाद में उसे कनीना में बस अड्डे के पास छोड़ गए। रेवाड़ी के महिला पुलिस थाने से संबद्ध एक अधिकारी ने बताया कि युवती की शिकायत पर जीरो प्राथमिकी दर्ज की गई। घटना की जांच महेन्द्रगढ़ पुलिस कर रही है, क्योंकि घटना उसके अधिकार क्षेत्र में आने वाले इलाके में हुई। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :