यहां मिली भद्र काली की एक हजार साल पुरानी प्रतिमा

डिंडिगुल|
डिंडिगुल। तमिलनाडु के इराविमंगलम गांव में नदी क्षेत्र से ‘भद्र काली’ की एक प्राचीन प्रतिमा निकाली गई है।
पुरातत्वविद् वी.नारायणमूर्ति ने बताया कि खूबसूरत नक्काशी वाली पत्थर की यह प्रतिमा करीब एक हजार साल पुरानी है। यह प्रतिमा 100 सेंटीमीटर लंबी और 137 सेंटीमीटर चौड़ी है।

उन्होंने बताया कि देवी पत्थर के एक खंड पर बैठी हुई हैं जिसमें उनका बायां पांव ‘असुर’ के ऊपर है और दायां पांव पालथी मार कर बैठने की अवस्था में है। मूर्ति के एक हाथ में एक खोपड़ी पकड़ी हुई है और सिर पर मुकुट भी है। प्रतिमा के दाएं हाथ में त्रिशूल है। अन्य हाथों में अन्य सामान हैं।
पुरातत्वविद् ने बताया, 'शिल्पकार ने बहुत खूबसूरती से प्रतिमा के चेहरे पर क्रोध का भाव प्रदर्शित किया है, जो बेहद स्वाभाविक लगता है।' (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :