अमरिंदर ने कहा, आईएसआई समर्थित मुट्ठीभर सिख भारत में शांति भंग करना चाहते हैं

पुनः संशोधित शनिवार, 11 अगस्त 2018 (14:58 IST)
चंडीगढ़। के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आज कहा कि पंजाब में 'जनमत संग्रह 2020' में रुचि लेने वाला कोई नहीं है, जो स्थित एक संगठन का अभियान है। सिंह ने कहा कि कुछ मुट्ठीभर सिख विभाजनकारी आवाज उठाकर पंजाब और भारत में दिक्कत उत्पन्न करना चाहते हैं।

सिंह ने लंदन में रविवार को 'सिख फॉर जस्टिस' की प्रस्तावित रैली को आईएसआई समर्थित कुछ मुट्ठीभर सिखों का एक प्रयास बताया, जो विभाजनकारी आवाज उठाकर पंजाब और भारत में दिक्कत उत्पन्न करना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि उन्हें ऐसे तत्वों और उनकी रैली को लेकर चिंता नहीं है। अमरिंदर ने कहा कि वह किसी को भी पंजाब में दिक्कत उत्पन्न नहीं करने देंगे।

उन्होंने कहा, यदि ये तत्व यह सोचते हैं कि वे यहां आएंगे और मेरे देश और मेरे राज्य की शांति भंग कर सकते हैं तो वे गलत हैं। उन्होंने राज्य की पुलिस से को पुनर्जीवित करने के किसी भी प्रयास से कड़ाई से निपटने को कहा। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :