0

पंडित जोशी : एक युग का अवसान

सोमवार,जनवरी 24, 2011
0
1

पंडित भीमसेन जोशी : एक नजर

सोमवार,जनवरी 24, 2011
बचपन में स्कूल से लौटते समय पंडितजी ग्रामोफोन रेकार्ड की दुकान पर रुककर गाने सुनते थे। मात्र 11 वर्ष की उम्र में ...
1
2

अखंड झरना बहा कर चले गए

सोमवार,जनवरी 24, 2011
ईश्वर का यह दूत तो अपने कंठ से बहते सुरों के अखंड झरने से तमाम रसिकजनों को तृप्त कर रहा था। आज वह झरने की कलकल अवश्य ...
2
3
शास्त्रीय संगीत के विलक्षण कलाकार भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से अलंकृत पंडित भीमसेन जोशी नहीं रहे। कवि ...
3
4
एक स्वर शांत हुआ और लगा जैसे समूची धरा पर नीरवता छा गई। यह खबर दस्तक दे सकती है यह आशंका तो थी मगर मन-मस्तिष्क तैयार ...
4
4
5
उस रात हम सब सौभाग्यशाली थे कि उनके सुरों की चाँदनी में हम स्नान कर रहे थे। यह पुण्य स्नान था। हमने उस दिन पुण्य पाया। ...
5
6

सुरों का बसंत हुआ खामोश

सोमवार,जनवरी 24, 2011
आप चाहें दुःख में हों या पतझड़ में उनकी सुरीली आवाज का हाथ थामकर आप अपने जीवन में बसंत का आना महसूस कर सकते थे। आज ...
6
7
संगीत संसार के लिए यह क्षण आनंद की रागिनी में डूब जाने का है। शास्त्रीय संगीत के विलक्षण कलाकार पंडित भीमसेन जोशी भारत ...
7
8

धन धन भाग सुहाग तेरो

शनिवार,नवंबर 8, 2008
पं. भीमसेन जोशी अब भारतरत्न पं. भीमसेन जोशी कहलाएँगे। भारतीय शास्त्रीय के यश का कलश जगमगा उठा है। 'धन धन भाग सुहाग ...
8
8
9
अभोगी, पूरिया, दरबारी, मालकौंस, तोड़ी, ललित, यमन, भीमपलासी, शुद्ध कल्याण आदि पंडितजी के पसंदीदा राग हैं। इसके अलावा अभंग ...
9
10
कलापिनी के अनुसार पंडितजी को भारतरत्न काफी पहले मिल जाना चाहिए था। आपने बताया कि पूना में प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले ...
10
11
वह पंडितजी की आवाज का ही जादू है जब उसे सुनकर आप पाते हैं कि इस कठोर दुनिया में जहाँ आखिरी पेड़ भी ओझल हो रहा हो तब ...
11
12

ख्याल गायकी के भगवंत

शनिवार,नवंबर 8, 2008
उनका आभामंडल सुरों की पवित्रता से दमकता रहता है... सुर उनके गले में स्थान पाकर अपने आप को धन्य समझते हैं, क्योंकि वे जब ...
12
13
वह इंदौर की एक सर्द रात थी जब वैष्णव विद्यालय के खुले प्रांगण में रसिकजन पंडित भीमसेन जोशी का गायन सुनने के लिए उनका ...
13
14
कभी-कभी ईश्वर किसी पर इतना कृपालु हो जाता है कि वह ईश्वर के देवदूत में बदल जाता है। लगता है जैसे ईश्वर ने अपनी ही इच्छा ...
14