अमेरिकी धनाढ्य महिलाओं की सूची में भारतीय मूल की दो महिलाएं

न्यूयॉर्क| Last Updated: शुक्रवार, 13 जुलाई 2018 (08:51 IST)
न्यूयॉर्क। भारतीय मूल की प्रौद्योगिकी कार्यकारी जयश्री उल्लाल और नीरजा सेठी ने अमेरिका की 60 धनाढ्य महिलाओं की सूची में जगह बनाई हैं। 21 साल की टीवी कलाकार और उद्यमी काइली जेनर भी ताकतवार महिलाओं की सूची में शामिल हैं। अपने बलबूते पर पहचान बनाने वाली 60 महिलाओं की सूची में जयश्री 1.3 अरब डॉलर के साथ 18वें स्थान पर जबकि नीरजा एक अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ 21वें पायदान पर रहीं।

फोर्ब्स ने कहा कि
अमेरिका की शीर्ष महिला उद्यमियों ने बंधन तोड़कर एक नया मुकाम बनाया। उन्होंने कंपनियां बनाई और आनुवांशिक परीक्षण से लेकर एयरोस्पेस जैसे विभिन्न क्षेत्रों में नाम कमाया। इन महिलाओं ने सोशल मीडिया का उपयोग कर अपने ब्रांड को मजबूत किया... इससे उनकी गिनती देश की सर्वाधिक सफल महिलाओं में होने लगी...।

लंदन में जन्मीं और भारत में पली-बढ़ी 57 साल की जयश्री कंप्यूटर नेटवर्किंग कंपनी एरिस्ता नेटवर्क की अध्यक्ष और मुख्य कार्यपालक अधिकारी बनी। इस कंपनी की आय 2017 में 1.6 अरब डॉलर रही। फोर्ब्स के अनुसार वहीं 63 साल की नीरजा आईटी परामर्श और आउटसोर्सिंग कंपनी सिनटेल की उपाध्यक्ष हैं।

उन्होंने यह कंपनी अपने पति भारत देसाई के साथ मिलकर 1980 में बनाई। केवल 2,000 डॉलर से शुरू की गई इस कंपनी की आय 2017 में 92.4 करोड़ डॉलर रही। फिलहाल कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 23,000 है और इसमें से 80 प्रतिशत भारतीय हैं।

सूची में शामिल 60 महिलाओं का नेटवर्थ शुद्ध रूप से 71 अरब डॉलर रहा। इन महिलाओं में 24 अरबपति हैं। सबसे कम उम्र की काइली, किम कारदाशियां वेस्ट की सौतेली बहन हैं। वे पहली बार सूची में शामिल हुई हैं। सोशल मीडिया पर उनके फॉलोअर की संख्या 11 करोड़ है।

तीन साल में ही ‘कॉस्मेटिक’ क्षेत्र में उन्होंने काफी नाम कमाया और नेटवर्थ 90 करोड़ डालर पर पहुंच गई। सूची में पहले स्थान पर डायने हेंडरिक्स हैं। विस्कोंसीन की रहने वाली इन अरबपति की कंपनी एबीसी सप्लाई हैं जो अमेरिका में छत (रूफिंग), साइडिंग (दीवार) और खिड़की’के थोक आपूर्तिकर्ता हैं।


और भी पढ़ें :