इरमा के बाद लोग सामान्य हो रहे हैं, भारतीयों के बीच महावाणिज्य दूत चक्रवर्ती


 
 
न्यूयॉर्क। चक्रवातीय तूफान 'इरमा' के विध्वंस के बावजूद फ्लोरिडा के हिस्सों के लोग सामान्य हो रहे हैं। यह बात भारत के महावाणिज्य दूत (कौंसुल जनरल) संदीप चक्रवर्ती ने कही। वे राहत कार्यों में मदद देने के लिए यहां मौजूद थे।
 
उन्होंने कहा कि भारतीय अमेरिकी पूरी तरह से खुश और आशावादी हैं। संदीप चक्रवर्ती ने 12 सितंबर को इंडिया वेस्ट से कहा कि तूफान का असर उतना अधिक नहीं था जितना कि लोगों ने सोचा था। लोगों को मकान और बिजली की समस्याएं हुईं लेकिन किसी को चोट लगने या मौत का कोई समाचार नहीं है। 
 
चक्रवर्ती ने यह भी कहा कि जिन लोगों को विस्थापित किया गया है, उनमें से ज्यादातर लोगों को टैम्पा में रखा गया है। यह एक ऐसा क्षेत्र था जिस पर इरमा का प्रभाव होने की उम्मीद नहीं की जा रही थी। इसके साथ ही, समुदाय के लोगों का मजबूत नेटवर्क था, जिन्होंने लोगों को शरण और भोजन उपलब्ध कराई।
 
विदित हो कि अमेरिका के फ्लोरिडा में करीब एक लाख बीस हजार लोग रहते हैं और इनमें से ज्यादातर लोग ऐसे इलाकों में रह रहे थे जो कि खतरनाक की श्रेणी में नहीं माने जा सकते हैं। चक्रवर्ती का कहना था कि एटलांटा में काम करते समय उन्होंने भारतीय अमेरिकियों के लिए राहत का इंतजाम किया। उन्होंने करीब एक हजार ऐसे लोगों को अटलांटा में ठहराया, जहां भारतीय संगठनों ने उनकी मदद की।   
>

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :