कांग्रेस का आरोप, गुजरात में हिंसा भाजपा की साजिश, मुख्‍यमंत्री ने नहीं उठाए कोई कदम

पुनः संशोधित शुक्रवार, 12 अक्टूबर 2018 (16:03 IST)
नई दिल्ली। ने लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी ने असफलताओं तथा घोटालों से ध्यान बांटने के लिए गुजरात में हिंसा करने की साजिश की और मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने स्थिति नियंत्रण में लाने के लिए कोई कदम नहीं उठाए, इसलिए उन्हें तत्काल हटा दिया जाना चाहिए।

कांग्रेस प्रवक्ता शक्तिसिंह गोहिल ने यहां पार्टी की नियमित प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि इस साजिश में भाजपा के नेता तथा विधायक शामिल रहे हैं और उनके खिलाफ आवश्यक कार्रवाई की जानी चाहिए। इस संबंध में उन्होंने एक वीडियो भी दिखाया जिसमें हिम्मतनगर के विधायक राजेंद्र सिंह चावड़ा लोगों को भड़का रहे हैं कि गुजरात में कार्यरत फैक्ट्रियों में स्थानीय लोगों को 80 फीसदी नौकरियां दी जानी चाहिए।

उन्होंने दावा किया कि इसी वीडिया में वहां मौजूद भीड़ में से हिंसा को भड़काने वाली आवाज आ रही है। गोहिल ने कहा कि गुजरात में उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों के साथ जो हिंसा की जा रही है वह राजनीति से प्रेरित है और भाजपा ने राजनीतिक लाभ अर्जित करने के लिए यह साजिश की। भाजपा के लोग किस तरह से इसमें शामिल रहे हैं, सोशल मीडिया के अलावा गुजराती भाषा के अखबारों ने इस बारे में खबरें छापी हैं।

इन खबरों के अनुसार, साजिश में भाजपा के विधायक भी शामिल हैं। कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर की भड़कावे संबंधी गतिविधि के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि किसी को भी कानून हाथ में नहीं लेना चाहिए और कांग्रेस इसकी कभी इजाजत नहीं देती और ऐसी घटनाओं की निंदा करती है।

उन्होंने कहा कि शुरू में अल्पेश ने संभवत: आक्रोश में कुछ गलत कर दिया हो लेकिन बाद में वह जिस तरह से स्थिति को सुलझाने के अभियान में जुट गए वह सभी ने देखा और उसे देखते हुए ही भाजपा की हिम्म्त उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की नहीं हुई है। (वार्ता)


और भी पढ़ें :