विपक्ष की आवाज दबा रही है सरकार : गुलाम नबी आजाद

Last Updated: बुधवार, 3 जनवरी 2018 (19:08 IST)
नई दिल्ली। महाराष्ट्र में विरोधी हिंसा की कड़ी निंदा करते हुए ने गुरुवार को कहा कि सरकार संसद में की आवाज दबा रही है। विपक्ष महाराष्ट्र में जातीय हिंसा का मामला उठाना चाहता था, लेकिन इसकी अनुमति नहीं दी गई।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने यहां संसद भवन परिसर में बातचीत में भारतीय जनता पार्टी पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाया और कहा कि केंद्र में साढ़े तीन साल पहले उसके के सत्ता में आने के बाद से दलितों पर अत्याचार किया जा रहा है।

सरकार पर संसद में विपक्ष की आवाज दबाने का आरोप लगाते हुए आजाद ने कहा कि राज्यसभा में विपक्ष दलितों पर अत्याचार के मुद्दे पर चर्चा कराना चाहता था। विपक्ष महाराष्ट्र में जातीय हिंसा का मामला उठाना चाहता था, लेकिन इसकी अनुमति नहीं दी गई। सदन की कार्यवाही को प्रसारित करने की अनुमति नहीं दी गई, जिससे विपक्ष की आवाज जनता तक नहीं पहुंच सकी।

भोजनावकाश से पहले राज्यसभा की कार्यवाही महाराष्ट्र में हिंसा को लेकर हंगामे के कारण दो बार स्थगित की गई। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :