Widgets Magazine

नन्ही कलम से : मां, तू सबसे ज्यादा भाती है

दिलीशा जाफरी (9 वर्ष)

मेरी प्यारी-प्यारी मां
मेरी भोली-भोली मां
प्यार हमसे तुम करती हो
कठोर दिखावा करती हो
हम हंसते हैं तो हंसती हो
हम रोते हैं तो रोती हो
जब भगवान न आ सके तो
उन्होंने मां बनाई हैं
भगवान के दूसरे रूप में
मां दुनिया में हैं
मां अपने पल्लू में भरकर
तु मेरी खुशियां लाई हैं
रात-रात जागकर
तुने मुझे लोरी सुनाई हैं
जो भी मां मुझे रूलाता
डांट उसे तू लगाती है
इसीलिए तो मां मुझे
तू सबसे ज्यादा भाती है
यह बात साबित करती है

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :