भक्तामर स्तोत्र की महिमा का करें गुणगान

श्री भक्तामर का पाठ, करो नित प्रात, भक्ति मन लाई। सब संकट जाएं नशाई॥ जो ज्ञान-मान-मतवारे थे, मुनि मानतुंग से हारे थे। उन चतुराई से नृपति लिया, ...

बिना चाबी के सिर्फ छूने से खुलेगा ताला

हर ताले को खोलने के लिए चाबी की जरूरत होती है, लेकिन डिजीटल वर्ल्ड में लगे तालों को खोलने ...

फनी बाल कविता : गधों का बहुमत‌

हाथीजी जब लड़े इलेक्शन, हुए गधे से पस्त। इतने थोड़े वोट मिले कि, हुई जमानत जब्त। सभी वर्ग के सभी गधों से, वोट गधे ने पाए।

फनी कविता: नदी-ताल भर जाने दो

कुंठा के दरवाजे खोलो, पवन सुगंधित आने दो। ओंठों पर से हटें बंदिशें, बच्चों को मुस्काने दो। भौरों के गुंजन पर अब तक, कभी रोक न लग पाई। फूलों के ...

तमिलनाडु का राज्यपक्षी : मरकती पंडुक

भारत सहित कई देशों में, पंडुक पाया जाता। जंगल चाहे जो भी हो, इसके मन को भाता। काया लगे कबूतर जैसी, पंख हरे कुछ पीले।

कुत्ते की कोचिंग क्लास

बिल्ली ने चूहे से पूछा, अगर कहो तो मैं आ जाऊं। गणित बहुत कमजोर तुम्हारी, कान खींचकर तुम्हें पढ़ाऊं।

बाल कविता : चतुर चींटी

मगरमच्छ को लाद पीठ पर, चींटी पड़ी दिखाई। चींटे ने पूछा बहना क्यों, इसे लाद कर लाई। चींटी बोली दिन पर दिन मैं,

बाल कविता : बारिश आई है...

खेलें-कूदें धूम मचाएं, बारिश आई है। अखबारों की नाव चलाएं, बारिश आई है। अम्मा कहतीं बच्चों कपड़े, गीले मत करना। नंगे होकर चलो नहाएं,

बच्चों की कविता : कोशिश कर ले...

एक शेर की बड़ी गुफा में, जा पहुंचे चूहे राजा। बोले अबे शेर के बच्चे, जरा पास मेरे आजा।

बाल कविता : चूहे की लात‌

एक शेर को चूहेजी ने, कसकर मारी लात। शेर सिंहजी गिरे उलटकर, टूटे सारे दांत।

बाल कविता : नाम हमारा चमकेगा

आठ बजे हम पढ़ने बैठे बारह बजा कभी का लेकिन जितना काम मिला था पूरा हुआ कभी का

बाल कविता : पावस‌

फूल फलों से लदे वृक्ष को, देख पथिक यूं बोला। तुम्हें क्यों मिले ताजे ये फल, मुझे भूख का चोला।

फनी कविता : यजमान कंजूस‌

बरफी ठूंस-ठूंस कर खाई। सात बार रबड़ी मंगवाई। एक भगोना पिया रायता। बीस पुड़ी का लिया जयका।

आदत जरा सुधारो ना

बात-बात पर डांटो मत अब, बात-बात पर मारो ना। आदत ठीक नहीं है बापू, आदत जरा सुधारो ना। बिगड़े हुए अगर हम हैं तो, समझा भी तो सकते हो।

रानी लक्ष्मीबाई की अम‍िट कहानी

कभी-कभी ही वीर नारियां, मुश्किल से हो पाती हैं। देशभक्ति में जीवन देकर, अपने प्राण लुटाती हैं।। ग्वालियर को जीत लिया था, उस झांसी की रानी ने। ...

फनी बाल कविता : चिट्ठी

मां चिट्ठी कैसी होती थी, मुझको जरा दिखाना। पढ़ चिट्ठी कैसा लगता था, मुझको जरा बताना।। क्या लिखती थीं दादी-नानी, उस प्यारी चिट्ठी में? क्या चेहरा ...

बाल कविता : पिता

पिता बिन जीवन नरक समान इनका करें सदा सम्मान। पिता-सा न कोई जग में महान, पिता से मिलता हमें सच्चा प्यार। पिता विचारों को उज्ज्वल करते, हमारे मन ...

फनी कविता : केरल

श्रीफल का भंडार है केरल, इसी की खेती होती है। सागर तट की सुंदरता, सबका मन हर लेती है।। कटहल, केला, काजू, आम, दिखते घर-घर उद्यानों में।

बाल कविता : मां का उद्बोधन

अम्मा मैं भी बाइक पर चढ़ विद्यालय को जाऊंगा छुट्टी होने पर घर वापस लौट दनादन आऊंगा। बस में तुम भेजा करती हो मैं हिचकोले खाता हूं छुट्टी होने पर ...

Widgets Magazine

संपादकीय

न तो युद्घ विकल्प है, न संवादहीनता

-अनिल जैन

तेजस्वी तेस्कर के हत्यारे...

भोपाल की रहने वाली 22 वर्षीय तेजस्वी तेस्कर ने भेल की सारंगपाणी झील में कूदकर ख़ुद्कुशी कर ली। ...

Widgets Magazine

जरुर पढ़ें

हिन्दी की बोलियों को महत्व देगा दूरदर्शन

प्रसार भारती के मुख्य कार्यकारी जवाहर सरकार ने कहा है कि दूरदर्शन अपने कार्यक्रमों में हिन्दी की ...

'ब्रांड इंडिया' का लाभ लेना चाहते हैं मोदी

वाशिंगटन। ओलिंपिक पदक विजेता और भाजपा सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौर ने कहा है कि प्रधानमंत्री ...

न्‍यूयॉर्क म्‍यूजियम ने किया ओम पुरी को सम्‍मानित

जाने-माने अभिनेता और उम्‍दा कलाकार ओम पुरी को हाल ही में न्‍यूयॉर्क के एक प्रसिद्ध म्‍यूजियम द्वारा ...

Widgets Magazine