होली कविता : मुट्ठी में है लाल गुलाल

नोमू का मुंह पुता लाल से, सोमू का पीली गुलाल से। कुर्ता भीगा राम रतन का, रम्मी के हैं गीले बाल। मुट्ठी में है लाल गुलाल। चुनियां को मुनियां ने ...

Widgets Magazine

बच्चों की कविता : प्यारी है होली

एक रंग चढ़ा है सब पर, नहीं है कोई अंतर। होली है त्योहार यह, या कोई जादू-मंतर। त्योहारों ...

बाल कविता : चलो पढा़ई कर लें हम

समय बचा अब बिलकुल कम, चलो पढा़ई कर लें हम। अगले माह परीक्षा है, मौसम कितना अच्छा है। ना ...

बाल कविता: नए जमाने के नए साधन

किया टाइप झट कम्प्यूटर पर, फिर प्रिंटर पर कागज डाला। हाथीजी ने बटन दबाकर, सुंदर प्यारा ...

बाल कविता : खेल

नहीं-नहीं रे आज नहीं रे, चलें खेलने नहीं कहीं रे। मेरे सिर में दर्द हो रहा,

बाल कविता : नहीं काम से कभी डरो...

अम्मा हुईं आज बीमार, लगा आफतों का अंबार। सबको चाय पिलाए कौन, रोटी आज बनाए कौन। पापा को ...

कविता : जितनी लंबी चादर, उतने पैर पसारें...

कंधे पर थैला डाले जब, चींटी गई बाजार, आलू-भटा-टमाटर-गोभी, लेकर आई उधार। बहुत दिनों तक ...

बाल कविता : बेटा फीस चुका आता हूं

अरे पिताजी क्या कर डाला, अब मैं कैसे जाऊं शाला। नहीं आपने फीस चुकाई, मुझको सर ने डांट ...

बाल साहित्य : बच्चे आए झाड़ू लेकर

बच्चे आए झाड़ू लेकर, भारत स्वच्छ करेंगे। गली-गली में पड़ीं पन्नियां, सड़क-सड़क पर कचरा है। ...

बाल कविता : कल के प्रश्न...

पापा केवल झाड़ू लेकर अपनी फोटो मत खिंचवाओ। न ही छपकर अखबारों में, अपनी झूठी शान बढ़ाओ। सच ...

बाल कविता : घर जैसे

हर प्यासे को पानी देना और भूखे को रोटी। दया, प्रेम, ममता, करुणा की, ये ही एक कसौटी।

बाल कविता : ईमान बचा लाया हूं...

सौ का नोट दिया था मां ने, बेटा कहीं गुमा आया था। मां डांटेगी यही सोचकर, डरते-डरते घर ...

बाल कविता : हाथी की शामत

किया अपहरण हाथीजी ने, चींटी का बेटा हर लाया। उसे छोड़ने के बदले में, रुपए एक करोड़ ...

बाल साहित्य : मेरी प्रतिज्ञा...

आज से मेरी यही प्रतिज्ञा, रोज सुबह उठ जाऊंगा।। पहले घर में पढ़ा करूंगा, फिर स्कूल को ...

बाल साहित्य : हमारी मां अगर होती

हमारी मां अगर होती, हमारे साथ में पापा। न आने दुख कभी देती, हमारे पास में पापा। सुबह तो ...

बाल साहित्य : उड़ चली गगन में

मुक्त भाव से उड़ती ऊपर, लगती है चितचोर पतंग। बाग तोड़कर, नील गगन में, करती है घुड़दौड़ ...

बाल कविता : ऐसी एक पतंग बनाएं

ऐसी एक पतंग बनाएं, जो हमको भी सैर कराए। कितना अच्छा लगे अगर, उड़े पतंग हमें लेकर। पेड़ों ...

बाल साहित्य : किसी और की रचना

गेंडे ने भालू की थाने में, रिपोर्ट लिखवाई। मेरी लिखी कहानी उसने, अपने नाम ...

कविता : सियार की शादी

चूहा आता ढोल बजाते। बिल्ली तान लगाती है। मेंढक बाबा फुदक के चलते। छू-छू गीत सुनाती ...

Widgets Magazine

लाइफ स्‍टाइल

'फुलब्राइट नेहरू डिसटिंगुइश्ड चेयर’ के लिए चुने गए भारतीय डॉक्टर

भारतीय मूल के एक प्रमुख अमेरिकी डॉक्टर को ‘फुलब्राइट नेहरू डिसटिंगुइश्ड चेयर टू इंडिया’ के लिए ...

महिला दिवस पर कविता : नारी शक्ति का दिन है...

आज महिला दिवस है, नारी शक्ति का दिन है, शक्ति जो दुनिया को आप में दिखाई देती है, मेरी नजर से देखें ...

Widgets Magazine

जरुर पढ़ें

गुलाब की तरह तुम....

गुलाब की तरह तुम्हारा रंग तो गुलाबी नहीं पर पहली बार जब मिला मुझे स्पर्श तुम्हारा महक उठी थी मेरी ...

प्रेम कविता : रख दो हथेलियों पर अक्षर

रख दो इन कांपती हथेलियों पर कुछ गुलाबी अक्षर कुछ भीगी हुई नीली मात्राएं बादामी होता जीवन का ...

गुणकारी मैथीदाना : पढ़ें 10 खास गुण

भारतीय घरों में आमतौर पर इस्तेमाल किए जाने वाला मैथीदाना पोषक तत्वों की खान है। मैथीदाने के अलावा, ...