बाल साहित्य : कम्प्यूटरजी...

ढूंढ लिया एक साथी हमने, खो‍ज लिया एक यार। बहुत ही प्यारा सबसे न्यारा, वह है बडा होशियार। हर सवाल का हल बतलाता, मुश्किल सारी ही सुलझाता।

Widgets Magazine

बाल कविता : पड़ा जोर से क्यों चांटा

स्लेट के दो टुकड़े करके चिल्लाया वह जोर-शोर से पापा देखो दो-दो स्लेटें अभी बनाई हैं ...

रंगबिरंगे पक्षी क्या कहते हैं

चिड़िया बोली चें चें चें चें उठो बालकों सुबह हो गई आसमान में अब हम पहुंचें ... तोता ...

नटखट कविता : पोहे बनाम मैगी

नहीं चाहिए मुझको पोहे राधिका गुर्राई इसे देखकर उसकी मम्मी ने मैगी बनवाई ... पोहे ...

बच्चों की कविता : कु्त्ता भौं-भौं करता है

कु्त्ता भौं-भौं करता है पूछ उठाए वह फिरता है देख कभी दूसरा कुत्ता उस पर भी भौं-भौं करता ...

रोचक बाल कविता : इमली का यह पेड़ पुराना

इमली का यह पेड़ पुराना दादाजी से बूढ़ा है छोटी-छोटी पत्ती वाला छाया गहरी करता है ...

मजेदार कविता : गणेशजी के वाहन हैं यह

सरपट-सरपट दौड़ लगाते चूहे निकले बिल के बाहर ..चूं चूं करते शोर मचाते दुम लहराते सटक ...

चुलबुली कविता : चिड़ा-चिड़ी का जीवन

एक घोंसला उन्हें बनाना दौड़-दौड़ तिनकों को लाना चिड़ा-चिड़ी का काम पुराना फिर अंडे ...

नटखट कविता : ढोल ढमा ढम ढम बजता है

ढोली ढम ढम ढम करता है ढोल ढमा ढम ढम बजता है बीच-बीच में तड़तड़ तड़ तड़ फिर ढमा ढम ढम ...

बच्चों की लोरी : निंदिया आई अब तू सो जा

दिल के टुकड़े मेरे भानू निंदिया आई अब तू सो जा आंखें भारी और उबासी ने घेरा है अब तू ...

गुरु पूर्णिमा पर कविता : गुरु का सदा आदर करो...

हर प्रकार से नादान थे तुम, गीली मिट्टी के समान थे तुम। आकार देकर तुम्हें घड़ा बना दिया, अपने पैरों पर खड़ा कर दिया। गुरु बिना ज्ञान कहां, उसके ...

बाल गीत : जय हनुमान बजरंग बली

जय हनुमान बजरंग बली, अंजनी के लाल पवन सुत नाम तुम्हारा। जय महावीर हे महाबली। रामभक्ति ही ...

बाल साहित्य : अमरूद के पेड़ पर तोता

अमरूद के पेड़ पर बैठकर के तोता। अपनी अभिलाषा का बखान कर रहा है, समझ नहीं पाया अमरूद की ...

बाल कविता : करो पढ़ाई ध्यान से...

सारी छुट्टी घूम टहल लिया, हरकत किया खूब झूम के। अब तो बच्चू बैग पकड़ लो, जाना है स्कूल ...

बाल गीत : बच्चो एक लाइन में आओ

हुड़दंग ऐसी नहीं मचाओ, बच्चो एक लाइन में आओ। सबको चॉकलेट मिलना है, एक नहीं दो-दो मिलना है। ...

बाल गीत : गरमा-गरम जलेबी

पापा गरमा-गरम जलेबी लेकर आए हैं। मुनिया ने पहचानी उनके, पैरों की आहट। मम्मी के मुखड़े पर ...

बाल कविता : बरसाती घोड़े

उमड़-उमड़ कर भूरे काले, मस्त चौकड़ी भरने वाले। देखो ये बरसाती घोड़े, नीलगगन में सरपट ...

बाल कविता : उड़न खटोला

जा रहा था पढ़ने शाला, कंधे पर लटकाकर झोला। ठिठक गया था अजी देखकर, नीलगगन में उड़न खटोला।। ...

बच्चों की कविता : होमवर्क

चला जा रहा था मैं गुमसुम कांधे लटकाए बस्ते को भारी मन से चिंतातुर हो उस दिन विद्यालय ...

Widgets Magazine

Widgets Magazine

नवीनतम

मॉनसून में आजमाएं, यह स्वादिष्ट उपाय

बरसात,वर्षा, बारिश, मानसून नाम चाहे कोई भी पुकारे हम लेकिन अहसास के स्तर पर यह मौसम मन को ठंडक ...

संस्मरण : स्मृतियों में बसी है कलाम से वह मुलाकात

23 अप्रैल 2003 की सुबह राष्ट्रपति भवन से एक फोन आया। दूरभाष के दूसरी तरफ से आवाज आई, मैं राष्ट्रपति ...

जरुर पढ़ें

जानिए, महकती केशर के सुगंधित गुण

केशर बहुत ही उपयोगी गुणों से युक्त होती है। यह उत्तेजक, वाजीकारक, यौनशक्ति बनाए रखने वाली होती है। ...

हरा-भरा धनिया : हर रूप में बढ़‍िया...

धनिया को खाने से नींद अच्छी आती है। शुद्ध शाकाहार में हरे धनिए का उपयोग बहुतायत में किया जाता है। ...

स्वादिष्ट बादाम के 15 पौष्टिक गुण

बादाम एक स्वादिष्ट ड्रायफ्रूट है। इसके पौष्टिक गुण ना सिर्फ खूबसूरत बनाते हैं बल्कि सेहत की दृष्टि ...