साहूकारों से था परेशान, वीडियो बनाकर किसान ने दी जान

नीमच| Last Updated: शनिवार, 13 जनवरी 2018 (15:48 IST)
नीमच। मध्यप्रदेश के जिले में एक ने कथित तौर पर साहूकारों के कर्ज से परेशान होकर जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या के पहले किसान ने एक वीडियो बनाया जिसमे उसने कहा है कि साहूकारों की प्रताड़ना से दुखी होकर वह खुदकुशी कर रहा है।
मनासा के अनुविभागीय पुलिस अधिकारी (एसडीओपी) रविन्द्र बोयट ने बताया कि जिला मुख्यालय से लगभग 30 किलोमीटर दूर मनासा थाना क्षेत्र के अल्हेड़ गाँव में 11 जनवरी की रात लगभग 10 बजे किसान विनोद पाटीदार (30) ने अपने खेत पर जहरीली वस्तु खाकर आत्महत्या कर ली।

बोयट ने बताया कि पाटीदार ने आत्महत्या के पहले एक वीडियो बनाया है, जिसमे उसने पांच साहूकारों के नाम लिए है और कहा कि इनका कर्जा चुकाने के बावजूद ये पांचो उसे परेशान कर रहे हैं जिसके चलते वह आत्महत्या कर रहा है। पुलिस ने वीडियो जप्त कर लिया है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पांचो साहूकारों के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 के तहत मामला दर्ज किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि मृतक किसान के परिवार में दो बच्चे और पत्नी हैं। किसान ने आत्महत्या के पहले अपने मोबाइल फोन से बनाये गये वीडियो में कथित तौर पर कहा कि निजी रतनलाल गुर्जर, जगदीश कचरू गायरी, डम्‍मरलाल कचरू गायरी, जगदीश चौहान और धर्मपाल ग्रोवर मनासा मुझ पर दबाव बना रहे हैं और मुझ पर चार लाख रूपए का कर्ज़ा बता रहे है। ये मुझे धमका रहे हैं। मैं डरकर आत्महत्या कर रहा हूं।
इस वीडियो में किसान ने यह भी कहा कि मेरा ट्रेक्टर भी ले लिया गया है। इस वीडियो को बनाने के बाद किसान ने ज़हरीली वस्तु खा ली। हालत खराब होने पर उसे प्राथमिक उपचार के बाद अहमदाबाद ले जाया गया लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया।

उन्होंने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद शव को परिजन को सौंप दिया गया है। वहीं इस मामले में मृतक किसान के परिवार से जुड़े पाटीदार समाज के तहसील अध्यक्ष प्रेम पाटीदार ने बताया कि मृतक किसान विनोद पाटीदार ने बीती 4 जनवरी को पीएमओ, नईदिल्ली को एक पत्र भेजकर इच्छा मृत्यु की अनुमति मांगी थी। इस पत्र में विनोद ने लिखा था कि साहूकार उसे परेशान कर रहे हैं।
पाटीदार ने कहा की कर्ज़े के चलते किसान ने आत्महत्या की है जो कि बेहद गंभीर मामला है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। (भाषा)


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :