Widgets Magazine

छतरपुर में आदिवासियों को रात में दौड़ा-दौड़ा कर पीटा...

छतरपुर| पुनः संशोधित शनिवार, 3 मार्च 2018 (13:45 IST)
के बमीठा थाना क्षेत्र में आदिवासियों पर हमले का मामला सामने आया है, जहां के कर्मचारियों ने करोदया के आदिवासियों को रात में खेतों से उठाकर दौड़ा-दौड़ा कर पीटा।
रात भर चले इस तालिबानी कहर में उन पर जमकर लाठी-डंडे भांजे गए। सजा इस तरह की थी कि शरीर पूरा टूट जाए बस जान भर न निकले। अब सभी घायल बमीठा थाने में अपनी व्यथा सुनाने और दशा दिखाने आए थे। वे सभी आरोपी कर्मचारियों के खिलाफ खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने की फ़रियाद कर रहे थे।

हमले में घायलों के नाम उम्मेदा पिता बाबू कोवादर (45), राममिलन पिता उम्मेदा आदिवासी, हजारी लाल पिता श्यामलाल (17), देशराज पिता मुन्ना आदिवासी (20), देवेन्द्र पिता रामनाथ आदिवासी (20), मंगू पिता हरजू आदिवासी (40), रामअवतार पिता मन्नू आदिवासी (25) और अन्य शामिल हैं। सभी पीड़ित निवासी करोदया के रहने वाले हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :