व्हट्सएप पर होते हैं ऐसे ऐसे लोग

पुनः संशोधित गुरुवार, 11 जनवरी 2018 (19:18 IST)
आप भी जरूर व्हट्सएप फर किसी ना किसी ग्रुप में शामिल होंगे, यह ग्रुप चाहे दोस्तों के हों या परिवार के, इनमें कुछ खास किस्म के लोग आपको हमेशा मिल जाएंगे।
गुडमॉर्निंग वाले
सुबह अलार्म के बजने से पहले इनका गुडमॉर्निंग का मेसेज आ जाता है। कभी फूलों के तस्वीरें होंगी, तो कभी प्रेरणा से भरे सुविचार। दिन ढलते ढलते कई बार ये गुडनाइट भी भेज देते हैं।

स्माइली वाले
ये लोग हर बात का जवाब स्माइली और इमोजी से देते हैं। में कौन सा निशान कहां है, ये इन्हें ऐसे याद होता है कि कभी किसी भी इमोजी को खोजने में वक्त ही नहीं लगता।
ग्रुप की तस्वीर बदलने वाले
ये हर अवसर के अनुसार ग्रुप की तस्वीर बदलते हैं। स्वतंत्रता दिवस होगा तो झंडा लगेगा, दिवाली होगी तो दिया। मन में आए, तो ग्रुप का नाम भी बदल देते हैं।

फॉरवर्ड वाले
ये शायद खुद भी हर चीज नहीं पढ़ते हैं लेकिन अपने फोन पर आया हर फॉरवर्डेड मेसेज ये आगे जरूर बढ़ा देते हैं। इनमें चुटकुले भी होते हैं और किस्से कहानियां भी।
सेल्फी वाले
ये दुनिया में जहां भी जाएं, सेल्फी लेना नहीं भूलते हैं। ग्रुप हमेशा इनकी सेल्फी के साथ भरा रहता है। कभी ऑफिस की सीट पर बैठे सेल्फी लेंगे, तो कभी बाथरूम में शीशे के सामने।

एलओएल वाले
हर चुटकुले का एक तय जवाब।। LOL. इसका मतलब होता है लाफ आउट लाउड यानि मैं जोर से हंसा। लेकिन शायद ही कभी ये चुटकुले को पढ़ कर हंसते हों। इनका एलओएल इस बात का प्रमाण होता है कि मैंने चुटकुला पढ़ लिया है।
गलत ग्रुप में मेसेज वाले
ये इतने लोकप्रिय होते हैं कि हर ग्रुप में सक्रिय रहते हैं। लेकिन जल्दबाजी में यहां का मेसेज वहां टाइप कर देते हैं और फिर कहते हैं, "सॉरी, रॉन्ग ग्रुप।"

खाने वाले
ये कुछ भी खाने से पहले उसकी तस्वीर जरूर लेते हैं और सभी दोस्तों और रिश्तेदारों को भी दिखाते हैं कि देखो आज खाने में क्या है, फिर खाना चाहे रेस्तरां का हो या इनके हाथ का बना।
कुछ ना करने वाले
ये होते हुए भी नहीं होते। पढ़ते ये सब हैं लेकिन जवाब किसी बात का नहीं देते। बाकी के ग्रुप वाले अक्सर इनसे नाराज रहते हैं क्योंकि व्हट्सऐप के नीले निशान से यह तो पता चल ही जाता है कि मेसेज इन तक पहुंच गया है।

ग्रुप छोड़ने वाले
ये बात बात पर ग्रुप छोड़ देते हैं। अधिकतर ये दिन भर फोन पर आने वाली नोटिफिकेशन से परेशान रहते हैं, इसीलिए भाग जाते हैं। लेकिन परिवार और दोस्तों के दबाव में आ कर लौट भी आते हैं।
एडमिन टाइप के
कुछ लोगों को ग्रुप बनाने का बहुत शौक होता है। वे बात बात पर ग्रुप बना देते हैं। सामने वाले को पता भी नहीं चलता है, लेकिन ये उसे ग्रुप में शरीक कर चुके होते हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

भारत में इंसानी मल को ढोते हजारों लोग

भारत में इंसानी मल को ढोते हजारों लोग
भारत में 21वीं सदी में भी ऐसे लोग मौजूद हैं जो इंसानी मल को उठाने और सिर पर ढोने को मजबूर ...

क्या होगा जब कंप्यूटर का दिमाग पागल हो जाए

क्या होगा जब कंप्यूटर का दिमाग पागल हो जाए
क्या होगा अगर कंप्यूटर और मशीनों को चलाने वाले दिमाग यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पागल हो ...

चंद हज़ार रुपयों से अरबपति बनने वाली केंड्रा की कहानी

चंद हज़ार रुपयों से अरबपति बनने वाली केंड्रा की कहानी
गर्भ के आख़िरी दिनों में केंड्रा स्कॉट को आराम के लिए कहा गया था। उसी वक़्त उन्हें इस ...

सिंगापुर डायरी: ट्रंप-किम की मुलाकात की जगह बसता है 'मिनी ...

सिंगापुर डायरी: ट्रंप-किम की मुलाकात की जगह बसता है 'मिनी इंडिया'
सिंगापुर का "लिटिल इंडिया" दो किलोमीटर के इलाक़े में बसा एक मिनी भारत है। ये विदेश में ...

जर्मन बच्चे कितने पढ़ाकू, कितने बिंदास

जर्मन बच्चे कितने पढ़ाकू, कितने बिंदास
जर्मनी में एक साल के भीतर कितने बच्चे होते हैं, या बच्चों को कितनी पॉकेट मनी मिलती है, या ...

इंडोनेशिया में फिदायीन हमला, मौलाना को मौत की सजा

इंडोनेशिया में फिदायीन हमला, मौलाना को मौत की सजा
जकार्ता। इंडोनिशया के स्टार बक्स कैफे में हुए फिदायीन हमले की साजिश रचने के मामले में ...

अनंतनाग में मुठभेड़, दो आतंकी ढेर, एक जवान शहीद

अनंतनाग में मुठभेड़, दो आतंकी ढेर, एक जवान शहीद
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में शुक्रवार को सुरक्षाबलों ने एक मुठभेड़ में दो ...

कर्नाटक के मंत्री के लिए ‘इनोवा’ उपयुक्त कार नहीं, ...

कर्नाटक के मंत्री के लिए ‘इनोवा’ उपयुक्त कार नहीं, ‘फॉरच्यूनर’ चाहते हैं
बेंगलुरू। कर्नाटक के एक मंत्री ने एक कहकर विवाद पैदा कर दिया कि उन्होंने सरकारी इस्तेमाल ...