दुनिया की 8 रिकॉर्डधारी किताबें

Last Updated: मंगलवार, 25 अप्रैल 2017 (11:48 IST)
छोटी सी किताबों की दुनिया बेहद विशाल है। उनमें अणु से लेकर ब्रह्मांड तक का जिक्र है। एक नजर कुछ बेहद दिलचस्प किताबों पर।
सबसे महंगी किताब
15वीं शताब्दी में लियोनार्डो दा विंची द्वारा लिखी गई "कोडेक्स लेस्टर" न्यूयॉर्क के नीलामी घर क्रिस्टीज ने नीलाम की। 1994 में हुई उस नीलामी में महान पेंटर और वैज्ञानिक की ये किताब 3.08 करोड़ डॉलर में बिकी। किताब को दुनिया के सबसे अमीर शख्स बिल गेट्स ने खरीदा।
सबसे पुरानी प्रिंटेड किताब
जर्मनी में गुटेनबर्ग की बाइबिल के छपने से भी 600 साल पहले चीन में छपाई की अलग तकनीक विकसित हो चुकी थी। 868 ईसवी में चीन में छपी डायमंड सूत्रा को दुनिया की सबसे पुरानी प्रिंटेड किताब माना जाता है। इसमें बुद्ध और उनके शिष्यों के बीच का संवाद है। शब्दों और तस्वीरों को पहले लकड़ी पर उकेरा गया फिर रंग चढ़ाकर उन्हें कागज पर छापा गया।

सबसे छोटी किताब
इतनी छोटी किताब कि नजर भी न आए। आकार 0.74 गुणा 0.75 मिलीमीटर। इस जापानी किताब "शिकी नो कुसाबाना" के नाम दुनिया की सबसे छोटी किताब का है। 22 पन्नों की इस किताब में फूलों की आकृति और उनका जिक्र है। इसे नोट छापने वाली तकनीक से प्रिंट किया गया।
सबसे ज्यादा पढ़ी गई किताब
यह रिकॉर्ड ईसाई धर्म ग्रंथ बाइबिल के नाम है। गिनीज ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के मुताबिक दुनिया भर में अलग अलग भाषाओं में बाइबिल की ढाई से लेकर पांच अरब प्रतियां मौजूद हैं। वर्ल्ड बाइबिल सोसाइटी के मुताबिक हर साल दो करोड़ नयी बाइबिलें छपती हैं। इसका अनुवाद 2,500 से ज्यादा भाषाओं में हो चुका है।
सबसे ज्यादा पठित उपन्यास
मिगेल दे सेरवांतेस की किताब "द हिस्ट्री ऑफ द वैलरस एंड विटी नाइट-एरांट डॉन-किकशॉट ऑफ द मांचा" दुनिया का सबसे ज्यादा पढ़ा गया उपन्यास है। 400 साल पहले लिख गये इस उपन्यास की अब तक 50 करोड़ से ज्यादा कॉपियां छप चुकी हैं। हैरी पॉटर के सारे उपन्यासों की अब तक 40 करोड़ कॉपियां छपी हैं।

सबसे मोटी किताब
अगाथा क्रिस्टी का मिस मारपेल कलेक्शन सबसे भारी किताबों में पहले नंबर पर है। 4,032 पन्नों की यह किताब आठ किलोग्राम भारी है। इनमें एक बुजुर्ग जासूस हत्या, चोरी और अन्य अपराधों के 32 मामले सुलझाती हैं।
सबसे गूढ़ पुस्तक
वैज्ञानिक कब से इस किताब पर माथापच्ची कर रहे हैं। 15वीं शताब्दी की वॉयनिस मैन्युस्क्रिप्ट कौन सी भाषा में लिखी गई है, यह अब भी किसी को पता नहीं। इन किताब में कई चित्र भी हैं, जिनमें फूल और महिलाएं हैं। वहां पाइपलाइनों का नेटवर्क भी हैं।

सबसे ज्यादा किताबों के लेखक
यह रिकॉर्ड साइंटोलॉजी के संस्थापक एल. रॉन हबर्ड के नाम है। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के मुताबिक उनके नाम से 1,084 किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं। सबसे ज्यादा ऑडियो बुक्स का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम हैं।
(रिपोर्ट: मेलिंडा राइत्स/ओएसजे)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :