Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine

मिले धोनी के चोरी हुए मोबाइल

पुनः संशोधित रविवार, 19 मार्च 2017 (17:37 IST)
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेटर महेंद्रसिंह धोनी के द्वारका स्थित होटल में लगी आग की घटना के दौरान गायब हुए तीन फोन में प्राथमिकी दर्ज कराने के कुछ घंटे भीतर ही मिल गए। के मोबाइल के चोरी होने की घटना के बाद पुलिस ने भी आनन फानन में कार्रवाई करते हुए रविवार को उनके मोबाइल ढूंढ निकाले। धोनी ने द्वारका स्थिति वेलकम होटल में आग की घटना के दौरान अपने मोबाइल फोन चोरी होने की सूचना पुलिस को दी थी।
पुलिस ने रविवार को तीनों मोबाइल फोन ढूंढ निकाले। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि जिस व्यक्ति ने धोनी के तीनों फोन उठाए थे उससे कुछ गलती हो गई थी और उसके अलावा जो भी स्टाफ के सदस्य धोनी के कमरे को साफ करने पहुंचे थे उन्होंने इन्हें उठा लिया था। होटल स्टाफ अधिकारियों को इस बात की जानकारी नहीं थी कि ए किसके मोबाइल हैं। लेकिन पुलिस के संपर्क करने के बाद उन्होंने सभी मोबाइल वापिस कर दिए हैं।
 
पुलिस ने इससे पहले जानकारी दी थी कि द्वारका स्थित जिस वेलकम होटल में धोनी ठहरे हुए थे वहां दो दिन पूर्व आग की घटना के दौरान पूर्व कप्तान के तीन मोबाइल फोन चोरी हो गए हैं। गौरतलब है कि शुक्रवार को इस होटल में आग लग गई थी जहां धोनी और उनकी घरेलू झारखंड क्रिकेट टीम के बाकी खिलाड़ी ठहरे हुए थे। 
 
आग लगने के तुरंत बाद धोनी और बाकी खिलाड़ियों को वहां से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था लेकिन इस दौरान सभी खिलाड़ियों का सामान वहीं रह गया था तथा उनकी किटों को भी नुकसान पहुंचा था जिस कारण झारखंड और बंगाल टीमों का विजय हजारे सेमीफाइनल मुकाबला भी एक दिन टालना पड़ा था।
 
पुलिस ने बताया कि उन्हें धोनी की ओर से शिकायत मिली है कि 17 मार्च को जब वह लॉबी में बाकी खिलाड़ियों के साथ नाश्ता कर रहे थे तब उनके तीन मोबाइल फोन कमरे में ही छूट गए थे और आग की सूचना मिलते ही तुरंत उन्हें वहां से जाना पड़ा था। इसके बाद जब उनका स्टाफ होटल के कमरे से उनका सामान ले जाने के लिए पहुंचा तो वहां उनके तीनों मोबाइल फोन गायब थे।
 
पुलिस ने धोनी की शिकायत पर द्वारका के दक्षिण पुलिस थाने में केस दर्ज किया था और इस मामले में कुछ लोगों से पूछताछ भी की गई थी। शिकायत के कुछ घंटों के भीतर ही पुलिस ने धोनी के मोबाइल फोन को जब्त कर लिए।
इस बीच वेलकम होटल की ओर से एक बयान में मामले पर सफाई दी गई है। उन्होंने कहा कि जांच में पता चला है कि होटल के स्टाफ की इस मामले में कोई संलिप्तता नहीं है और न ही कोई प्राथमिकी किसी व्यक्ति के खिलाफ दर्ज की गई है। हमने जांच में प्रशासन के साथ पूरा सहयोग किया है। (वार्ता)
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine