साल में एक ही बार होगा NEET, ऑनलाइन नहीं होगा

पुनः संशोधित बुधवार, 22 अगस्त 2018 (10:58 IST)
नई दिल्ली। की अनुशंसा को मानते हुए केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय ने फैसला किया है कि नीट मेडिकल (NEET) और साल में दो नहीं एक बार होगी। इससे विद्यार्थियों पर दबाव नहीं पड़ेगा। ग्रामीण विद्यार्थियों को देखते हुए इसे ऑनलाइन नहीं किया जाएगा।

7 जुलाई 2018 को मानव संसाधन विकास मंत्री ने घोषणा की थी कि अब नीट और जेईई की परीक्षा जनवरी और अप्रैल महीने में यानी दोबारा ऑनलाइन पद्धति से आयोजित की जाएगी, लेकिन 45 दिन बाद ही जावड़ेकर ने यूटर्न लेते हुए अपना फैसला बदल दिया।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने मंगलवार को नीट, जेईई सहित कई परीक्षाओं का कार्यक्रम जारी किया है। ये परीक्षाएं अभी तक सीबीएसई आयोजित करती रही है। पहली बार इन परीक्षाओं का जिम्मा नवगठित नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) को सौंपा गया है। नीट के परीक्षा पैटर्न में बदलाव को लेकर यह हलचल उस समय शुरू हुई, जब मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इनमें बदलावों को लेकर अधिकृत तौर पर घोषणा की।

एक्जाम की तारीख
NEET UG 2019
पेन व पेपर एक्‍जाम (सिंगल सेशन में)
रजिस्ट्रेशन : 1 नवंबर से 30 नवंबर, 2018
एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे : 15 अप्रैल, 2019
परीक्षा तिथि : 5 मई 2019
रिजल्ट की तिथि : 5 जून, 2019


और भी पढ़ें :