Widgets Magazine

कर सलाहकारों से एक समय में एक ही पंजीकरण कराएं

नई दिल्ली| पुनः संशोधित सोमवार, 17 जुलाई 2017 (18:28 IST)
नई दिल्ली। जीएसटी लागू हुए एक पखवाड़ा ही हुआ है, कुछ करदाताओं ने शिकायत की है कि जीएसटी पोर्टल पर अन्य के साथ उनके आंकड़ों का घालमेल हो रहा है, वहीं इस घालमेल के लिए आयकर विभाग ने एक साथ कई इकाइयों का पंजीकरण करने को लेकर सलाहकारों को जिम्मेदार ठहराया है।
 
केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीईसी) की मुंबई इकाई ने एक परिपत्र में कहा है कि कुछ करदाताओं ने  यह शिकायत की है कि जब वे जीएसटी पोर्टल पर अपने एकाउंट का लॉग-इन कर रहे हैं, वह दूसरे के एकाउंट  पर चले जाते हैं और उसमें दूसरे करदाता का आंकड़ा दिखाई देता है।
 
कर विभाग ने कहा कि ये चीजें वहां हो रही हैं, जहां किसी वाणिज्यिक इकाई का पंजीकरण या नामांकन एक ही  द्वारा किया गया है। इसमें कहा गया है कि यह तब होता है जब एक कर सलाहकार अपने कंप्यूटर पर विभिन्न करदाताओं के लिए कई विंडो एक साथ खोलता है।
 
एप्लीकेशन भरते समय आंकड़ा कंप्यूटर की मेमोरी में रहता है और इस प्रकार की चीजें होती हैं। सीबीईसी ने सभी कर सलाहकारों से एक बार में एक से अधिक पंजीकरण करने से मना किया है। इसमें कहा गया है कि एक मामला पूरा होने के बाद कंप्यूटर से मेमोरी को हटाने के बाद दूसरी पंजीकरण प्रक्रिया शुरू की जानी चाहिए। (भाषा)


Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine