जब स्त्रियों ने उठाई बंदूकें

गुरुवार,जनवरी 24, 2008

आज़ाद जन्मदिन का तोहफ़ा

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
मोहल्ले में लोग आज़ादी की 60वीं वर्षगाँठ की तैयारी में लगे हुए थे। बीच चौराहे पर चमकता-लहराता तिरंगा गाड़ दिया गया था। ...

60 वर्ष स्त्रियों की आजादी के

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
उपलब्धियों का दूसरा चेहरा स्‍त्री के वस्‍तुकरण, उसे उत्‍पाद और भोग की वस्‍तु बना दिए जाने की शक्‍ल में भी सामने आया है, ...
आज भी सरकारें अपनी राजधानी से स्वतंत्रता दिवस के आयोजन का फरमान निकालती हैं, जो जिला मुख्यालय से तहसील स्तर की पंचायतों ...
इतिहास साक्षी है कि एक कट्टर रूढिवादी हिंदू समाज में इसके पहले इतने बड़े पैमाने पर महिलाएँ सड़कों पर नहीं उतरी थीं। ...
Widgets Magazine
उनमें सामाजिक शिष्‍टाचार का भी अभाव था। शिक्षा का प्रसार नहीं था, महिलाओं की स्थिति शोचनीय थी। अँग्रेजों ने जब अपने ...

लाठी और लँगोटी वाला एक संत

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
देश की आजादी का जिक्र हो और राष्‍ट्रपिता का स्‍मरण न आए, यह तो असंभव है। बापू भारत की आत्‍मा में बसते हैं और जब तक ...

आजादी के 60 बरस

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की गोली मारकर हत्या करने वाले हत्यारे नाथूराम गोडसे को 15 नवंबर, 1948 में फाँसी की सजा दी गई ...

सिनेमा के 60 बरस

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
आजाद भारत के साथ-साथ हिंदी सिनेमा ने भी 60 वर्षों का सफर पूरा किया है। इस पूरे दौर में सिनेमा ने बहुत से उतार-चढ़ाव ...
Widgets Magazine
‘तुम मुझे खून दो, मैं तुम्‍हें आजादी दूँगा’, इस नारे को देश की आजादी के लिए ब्रहृम वाक्‍य का रूप देने वाले नेताजी ...
हम भारत की आजादी की 60वीं वर्षगांठ मना रहे हैं। पूरा देश उल्‍लास में नहाया हुआ है। लेकिन हमें यह आजादी एक कठिन राह से ...
आजादी के संग्राम के नायक और आजाद भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने यह स्वप्न, शायद स्वतंत्रता मिलने के कुछ ...

जब्‍तशुदा नज्‍में

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
ये आत्मा तो अजर-अमर है निसार तन-मन स्वदेश पर है है चीज क्या जेल, गन, मशीनें, कजा का भी हमको डर नहीं है। न देश ...

साठ वर्ष आजादी के

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
आजादी के साठ वर्षों में हमारा देश बहुत से उतार-चढ़ावों से गुजरा है। इन वर्षों में जहाँ हमने ढेरों उपलब्धियाँ हासिल कीं, ...
ऐसा कवि ने कहा है, और उसकी पंक्तियाँ अक्सर उद्धृत की जाती हैं। यह सही है कि पूरब या कम-से-कम उसका वह हिस्सा, जिसे ...

आजाद भारत को ब्रिटेन का सलाम

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
‘विश्‍व में स्‍वतंत्रता से प्रेम करने वाले सभी लोग आपके इस जश्‍न में भागीदार होना चाहेंगे क्‍योंकि सत्‍ता के हस्‍तांतरण ...

लॉर्ड कर्जन का दरबार

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
काँग्रेस अधिवेशन समाप्त हुआ, पर मुझे तो दक्षिण अफ्रीका के काम के लिए कलकत्ते में रहकर चेंबर ऑफ कॉमर्स इत्यादि मंडलों से ...

नियति से सामना

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
बहुत वर्ष हुए, हमने भाग्य से एक सौदा किया था, और अब अपनी प्रतिज्ञा पूरी करने का समय आ गया है। पूरी तौर पर या जितनी ...
भारतीय सिनेमा ने सांप्रदायिक सौहार्द और राष्ट्रीय एकता की भावना को बढ़ावा देने में हमेशा महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। ...
आजादी का जश्न साल भर जारी रहेगा क्योंकि साठ साल की उम्र में देश फिर से जवान होने लगा है। तमाम तरह के तराने-गाने अथवा ...