जीवन में लक्ष्य बनाएं और बेहतर नींद पाएं, जानें क्या कहता है शोध


वॉशिंगटन। अगर आपने अपनी जिंदगी को कोई या मकसद दिया है तो यह आपको एक बीमारी से बचा सकता है। वैज्ञानिकों ने पता लगाया है कि जिन उम्रदराज लोगों के  पास जीवन जीने का एक मकसद होता है, उनमें से संबंधी विकार कम होते हैं।
 
अमेरिका के नॉर्थ वेस्टर्न विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं सहित अन्य अनुसंधानकर्ताओं  ने पाया कि वे उम्रदराज लोग जिनके पास जिंदगी जीने का मकसद होता है, उनमें नींद  संबंधी विकार (एप्निया) से पीड़ित होने की 63 फीसदी कम संभावना होती है। यह  एक ऐसा विकार है जिसमें सोने के दौरान सांस लेने में समस्या होती है।
 
हालांकि इस अध्ययन में हिस्सा लेने वाले ज्यादातर उम्रदराज लोग थे लेकिन अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि यह बड़े पैमाने पर लोगों पर लागू हो सकता है। यह अध्ययन 'स्लीप साइंस एंड प्रैक्टिस जर्नल' में प्रकाशित हुआ है। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :