सावधान, जानलेवा हो सकते हैं गले के रोग....


छाया बंदिष्टे


हम में से बहुतों को खासकर बच्चों को अक्सर सर्दी-खांसी होती रहती है। यह बहुत ही साधारण बीमारी होती है व कुछ दिन रहकर ठीक हो जाती है। यह एक सामान्य बात है, परंतु इसके दूरगामी परिणाम भयावह होते हैं। होता है, परंतु हृदय के वाल्व तथा किडनी (गुर्दे) इसके शिकार हो सकते हैं।

एक विशेष कीटाणु के खिलाफ शरीर के प्रतिरोध शक्ति द्वारा बनाए हुए हृदय के वाल्व या किडनी के ऊपर अटैक कर देते हैं। किडनी के ऊपर हुए असर के कारण उसके द्वारा रक्त की शुद्धिकरण की क्रिया पर असर होता है। इसे कहते हैं। इस वजह से गुर्दे कुछ समय के लिए फेल हो जाते हैं। मूत्र कम बनता है तथा उसमें खून भी आता है। हाथ-पैरों में सूजन आती है तथा ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है।

ज्यादातर केसों में यह तकलीफ उपचार से ठीक हो जाती है, किंतु बार-बार के इंफेक्शन से या एक बार में ही ज्यादा संक्रमण हो तो गुर्दे भी फेल हो सकते हैं। उसी तरह हृदय के वाल्व पर इसका असर होता है तो कालांतर में वाल्व या तो सिकुड़ जाते है या उनकी कंपन गति कमजोर हो जाती है जिसकी वजह से खून के संचालन में बाधा आती है। खासकर बाईं तरफ के वाल्व में यह खराबी होती है जिसे माइट्रल या एओरटिक कहते हैं।

कई बार हृदय इस वजह से फूलने लगता है या खून का प्रेशर उसमें बढ़ने लगता है, अतः जब भी गला खराब हो उसे गंभीरता से लें। बुखार की दवाओं के साथ-साथ एंटीबायोटिक का पूरी मात्रा में सेवन करें। वैक्सीन लगाने से भी की जा सकती है। खान-पान की तरफ ध्यान दें, विटामिन सी का सेवन करने से बीमारी से बच सकते हैं।

तंग बस्ती में रहने वाले तथा जहां पर वायु प्रदूषित हो वहां यह बीमारी ज्यादा होती है। अगर ह्रदय का वाल्व खराब हो गया हो तो लंबे समय तक ह्रदय रोग की दवाइयों के साथ पुन: इंफेक्शन ना हो इसके लिए पेनिसिलिन नामक एंटीबायोटिक निश्चित मात्रा में समय-समय पर लगानी पड़ती है।

अगर इससे एलर्जी है तो अन्य करना चाहिए। समय-समय पर ह्रदय के चेकअप से वाल्व की स्थिति का अंदाजा लगाया जा सकता है। कालांतर में अगर खराबी ज्यादा है तो वाल्व का ऑपरेशन भी करना पड़ सकता है। अत: सावधानी बरतें और गले की खराबी से बचें।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

बालों को मख़मली बनाए ये 5 हेयर मास्क

बालों को मख़मली बनाए ये 5 हेयर मास्क
आमतौर पर लोग बालों में तेल लगाना, शैंपू करना और ज्यादा से ज्यादा शैंपू के बाद कंडीशनिंग ...

ग़ज़ल : उम्र भर सवालों में उलझते रहे...

ग़ज़ल : उम्र भर सवालों में उलझते रहे...
उम्र भर सवालों में उलझते रहे स्नेह के स्पर्श को तरसते रहे, फिर भी सुकूँ दे जाती हैं ...

4 प्रकार के हेयर मास्क, पढ़ें आपको कौनसा लगाना चाहिए?

4 प्रकार के हेयर मास्क, पढ़ें आपको कौनसा लगाना चाहिए?
बालों को मखमली और मुलायम बनाने के लिए हेयर मास्क लगाया जाता है। कई प्रकार के हेयर मास्क ...

हेल्दी रहने के 10 उपयोगी टिप्स, खास आपके लिए...

हेल्दी रहने के 10 उपयोगी टिप्स, खास आपके लिए...
हमेशा अपने जीवन में एक आदत को शामिल कर लें, वो यह कि जिंदा रहने के लिए खाएं, खाने के लिए ...

जानिए, दान से संबंधित ये 10 विशेष नियम...

जानिए, दान से संबंधित ये 10 विशेष नियम...
स्वयं जाकर दिया हुआ दान उत्तम एवं घर बुलाकर दिया हुआ दान मध्यम फलदायी होता है।

ज्योतिष की एक अनूठी शैली नंदी नाड़ी, पढ़ें क्या हैं ...

ज्योतिष की एक अनूठी शैली नंदी नाड़ी, पढ़ें क्या हैं विशेषताएं
भगवान शंकर के गण नंदी द्वारा जिस ज्योतिष विधा को जन्म दिया गया उसे नंदी नाड़ी ज्योतिष के ...

नेपाल में भी चला है प्रधानमंत्री मोदी का जादू

नेपाल में भी चला है प्रधानमंत्री मोदी का जादू
नेपाल के साथ भारत के संबंध भले ही सदियों के रहे हों, रोटी-बेटी का व्यवहार हो, सीमाएं खुली ...

ग्रह कैसे असर डालते हैं हम पर, आइए पढ़ें रोचक जानकारी

ग्रह कैसे असर डालते हैं हम पर, आइए पढ़ें रोचक जानकारी
दूर बैठे ग्रह नक्षत्र कैसे मानव जीवन पर प्रभाव डाल सकते हैं? अक्सर यह सवाल मनुष्य के ...

भारत में हुआ है ज्योतिष का उदय, जानिए ज्योतिष के 10 महान ...

भारत में हुआ है ज्योतिष का उदय, जानिए ज्योतिष के 10 महान ग्रंथ
ज्योतिष का उदय भारत में हुआ, क्योंकि भारतीय ज्योतिष शास्त्र की पृष्ठभूमि 8000 वर्षों से ...

भगवान सूर्यदेव की 10 बातें जो आप नहीं जानते...

भगवान सूर्यदेव की 10 बातें जो आप नहीं जानते...
सूर्यस्वरूप सृष्टि में सबसे पहले प्रकट हुआ इसलिए इसका नाम आदित्य पड़ा।