ये 10 तरीके अपनाएं और बच्चे का अंगूठा चूसना छुड़ाएं

सभी अभिभावक जल्द से जल्‍द अपने बच्चों की अंगूठा चूसने की आदत को छुड़ाना चाहते हैं, लेकिन कई बार उन्हें कोई कारगर तरीका नहीं सूझता। केवल थोड़ा गौर करेंगे तो बच्चे को इस हानिकारक आदत से दूर रख सकते हैं। तो आइए, आपको बताते हैं कैसे आप अपने नन्हे को इस आदत से निजात दिला सकते हैं।
1. बच्चों को अंगूठा चूसने के क्या परिणाम हो सकते है इस बारे में जरूर बताएं। उन्हें समझायें कि ये आदत उन्हें बीमार कर सकती है। जिस उंगली को चूसा जा रहा है उसपर सूजन या संक्रमण होना, साँस में दिक्कत होना- ये सब अपने बच्चे को दिखायें।

2. उन्हे ये भी समझाने की कोशिश करें कि इस आदत से उनके दातों पर प्रभाव पड़ेगा और बड़े होकर टेढ़े या ऊँचे दाँतों पर तार लगवाने में कितना दर्द होता है, ये सब अपने बच्चे को बताएँ।
3. उसे ये भी बतायें की बड़े होकर भी यदि वह इस आदत को नही छोड़ता तो उसके स्कूल/ कॉलेज में वह सबकी हँसी का पार्थ बन सकता है जो उसी को ठेस पहुँचाएगा।

4. बच्चे को समय पर उचित मात्रा में भोजन व दूध पिलाते रहें।

5. उनके हाथों में कोई खिलौना आदि देकर उन्हें व्यस्त कर दें।
6. बच्चों को माता-पिता का साथ समय-समय पर मिलता रहना चाहिए, इससे वे अकेलापन व असुरक्षा का अनुभव नहीं करते, साथ ही उन्हें डर भी रहेगा कि ऐसा करने पर उन्हें डांटा जा सकता है।

7. कुछ माताएं अपने शिशु को व्यस्त रखने के लिए जान-बूझकर उसके हाथ में चूसनी पकड़ा देती हैं, यह चूसनी की आदत ही अंगूठा या अंगुली चूसने का रूप धारण कर लेती है।


8. यदि बच्चा अंगूठा चूस रहा है तो झटके से उसके मुंह से हाथ न झटकें, इससे बच्चा जिद्दी हो सकता है।

9. कुछ लोग बच्चे की इस आदत को छुड़ाने के लिए हाथों पर नीम का तेल या मिर्च लगा देते हैं, इससे बच्चे को नुकसान हो सकता है, वह अपना हाथ आंख में लगा सकता है। इससे बच्चे में अपराध भाव पैदा होता है व उसका मानसिक विकास रुक जाता है।
10. यदि सभी उपाय करने पर भी बच्चा इस गंदी आदत को न छोड़े तो किसी योग्य मनोचिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान ...

लिपबाम के फायदे जानते हैं और इसे लगाते हैं, तो इसके नुकसान भी जरूर जान लें
लिप बाम सौंदर्य प्रसाधन में आज एक ऐसा प्रोडक्ट बन चुका है, जिसके बिना किसी लड़की व महिला ...

पति यदि दिखाए थोड़ी सी समझदारी तो पत्नी भूल जाएगी नाराज होना

पति यदि दिखाए थोड़ी सी समझदारी तो पत्नी भूल जाएगी नाराज होना
पति-पत्नी के बीच घर के दैनिक कार्य को लेकर, नोकझोंक का सामना रोजाना होता हैं। पति का ...

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव

क्या आपको भी होती है एसिडिटी, जानिए प्रमुख कारण और बचाव
मिर्च-मसाले वाले पदार्थ अधिक सेवन करने से एसिडिटी होती है। इसके अतिरिक्त कई कारण हैं ...

फलाहार का विशेष व्यंजन है चटपटा साबूदाना बड़ा

फलाहार का विशेष व्यंजन है चटपटा साबूदाना बड़ा
सबसे पहले साबूदाने को 2-3 बार धोकर पानी में 1-2 घंटे के लिए भिगो कर रख दें।

बालों को कलर करते हैं, तो पहले यह सही तरीका जरूर जान लें

बालों को कलर करते हैं, तो पहले यह सही तरीका जरूर जान लें
हर बार आप सैलून में ही जाकर अपने बालों को कलर करवाएं, यह संभव नहीं है। बेशक कई लोग हमेशा ...

दूषित सोच से पीड़ित एक प्रसिद्ध भारतीय अर्थशास्त्री

दूषित सोच से पीड़ित एक प्रसिद्ध भारतीय अर्थशास्त्री
पिछले सप्ताह विश्व प्रसिद्ध अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन ने मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों के ...

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके ...

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके बच्चे को बिगड़ने से कोई नहीं रोक सकता!
पैरेंट्स की कुछ ऐसी आदतें होती हैं, जो वे बच्चों को सुधारने, कुछ सिखाने-पढ़ाने और नियंत्रण ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो यह एस्ट्रो टिप्स आपके लिए है
क्या आप भी संकोची हैं, अगर हां तो यह आलेख आपके लिए है...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों ...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों को नजरअंदाज करें, वरना हो सकती है बड़ी परेशानी
ये बीमारी भी ऐसे ही सामने नहीं आती। इसके भी लक्षण हैं जो आप और हम जैसे लोग अनदेखा करते ...

श्री गुरु पूर्णिमा : कैसे मनाएं घर में पर्व जब कोई गुरु ...

श्री गुरु पूर्णिमा : कैसे मनाएं घर में पर्व जब कोई गुरु नहीं हो...ग्रहण के कारण इस समय कर लें पूजन
वे लोग जिन्हें गुरु उपलब्ध नहीं है और साधना करना चाहते हैं उनका प्रतिशत समाज में अधिक है। ...