5 चरणों में होता है हड्डी का कैंसर, आप भी जानिए


यानि हड्ड‍ियों का कैंसर। कैंसर हर स्थ‍िति में खतरनाक बीमारी है, और बात अगर बोन कैंसर की हो, तो यह बेहद खतरनाक हो सकता है, क्योंकि हड्ड‍ियां ही मुख्य रूप से आपके शरीर का आधार होती हैं। हड्ड‍ियों में किसी तरह की खरागी आपको शारीरिक रूप से अक्षम बना सकती है। जानिए बोन कैंसर के यह 5 चरण... 
यह भी पढ़ें : चॉकलेट रखेगी और ब्यूटी बरकरार, ये रहे 7 लाभ>  
1 बोन कैंसर होने के शुरुआती यानि पहले चरण को दो भागों ए और बी में बांटा जा सकता है। ए इसकी शुरुआती अवस्था है, जिसमें कैंसर माइनर होता है और अन्य हिस्सों तक फैला नहीं होता। कैंसर होने के स्थान पर हल्की सूजन होती है। वहीं बी अवस्था में कैंसर हड्डी की दीवारों तक पहुंच चुका होता है।
 
2 बोन कैंसर अपने दूसरे चरण तक कैंसर गंभीर हो जाता है। इसके दूसरे चरण को भी दो अवस्थाओं में बांटा जा सकता है। पहली अवस्था में कैंसर का फैलाव अधिक होता है, लेकिन वह शरीर के अन्य हिस्सों तक न पहुंचकर हड्ड‍ियों तक ही सीमित होता है। लेकिन दूसरी अवस्था में यह आसपास के ऊतकों व हड्ड‍ियों तक फैल चुका होता है।
3 बोन कैंसर का तीसरा चरण घातक हो सकता है। इस अवस्था तक मरीज के फेफड़े तक, कैंसर की चपेट में आ जाते हैं। इसके अलावा कैंसर शरीर के अन्य हिस्सों तक भी फैल जाता है।
 
4  इस अवस्‍था में बोन कैंसर शरीर के लगभग हर हिस्‍से में फैल चुका होता है। इसके साथ ही फेफड़ों को बुरी तरह प्रभावित कर चुका होता है। यह अवस्था मरीज के लिए काफी गंभीर होती है। 
5  बोन कैंसर के शरीर में फैलने पर हड्डियों की स्‍वस्‍थ कोशिकाएं प्रभावित होता खत्म होने लगती हैं और हड्ड‍ियां पूरी तरह से कमजोर और बेजान हो जाती हैं अ और शरीर का आधार खत्म होने लगता है।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

हिन्दी कविता : देह हूं मैं ...

हिन्दी कविता : देह हूं मैं ...
देह हूं मैं प्राणों से भरी , अहसासों से भरी देह हूं मैं जब छूते हो मुझे मेरी ...

मन की अभिव्यक्ति से मिलती है खुशी

मन की अभिव्यक्ति से मिलती है खुशी
वर्षों बाद वो दोनों सखियां मिलीं। मन में भावनाओं का ज्वार। आंखें ख़ुशी के आंसुओं से सिक्त। ...

प्रेम गीत : मुझको दीवाना कह लो

प्रेम गीत : मुझको दीवाना कह लो
तुम्हे प्यार नहीं तो क्या मुझको दीवाना कह लो। उम्मीदे वफ़ा नहीं तो क्या, मुझको दीवाना कह ...

बचा जा सकता है थायराइड से, यहां जानिए कैसे

बचा जा सकता है थायराइड से, यहां जानिए कैसे
योग के जरिए भी थायराइड से बचा जा सकता है। खासकर कपालभाती करने से थायराइड की समस्या से ...

तंत्र की देवी है मां बगलामुखी, हर आपदा से बचाता है उनका ...

तंत्र की देवी है मां बगलामुखी, हर आपदा से बचाता है उनका मंत्र
मां बगलामुखी यंत्र चमत्कारी सफलता तथा सभी प्रकार की उन्नति के लिए सर्वश्रेष्ठ माना गया ...

हर तरफ है बस संकट ही संकट तो पढ़ें नृसिंह देव का यह अचूक ...

हर तरफ है बस संकट ही संकट तो पढ़ें नृसिंह देव का यह अचूक मंत्र
अगर आप कई संकटों से घिरे हुए हैं या संकटों का सामना कर रहे हैं, तो भगवान विष्णु या श्री ...

एच-4 वीजाधारकों के वर्क परमिट पर अमेरिका में बवाल

एच-4 वीजाधारकों के वर्क परमिट पर अमेरिका में बवाल
वॉशिंगटन। प्रभावशाली सांसदों और फेसबुक समेत अमेरिकी आईटी उद्योग के प्रतिनिधियों ने एच-4 ...

ज्योतिष के यह योग बनाते हैं चरित्रहीन, पढ़ें ज्योतिष ...

ज्योतिष के यह योग बनाते हैं चरित्रहीन, पढ़ें ज्योतिष विश्लेषण
वर्तमान समय में देश में दुष्कर्म की घटनाओं में वृद्धि हुई है। काम-क्रोध आदि षड्विकार सभी ...

25 अप्रैल : विश्व मलेरिया दिवस पर विशेष

25 अप्रैल : विश्व मलेरिया दिवस पर विशेष
विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार विश्व में तीसरी सबसे अधिक मलेरिया दर भारत में है। भारत ...

सेहत और सौंदर्य का साथी है विटामिन-ई, जानिए 10 लाभ

सेहत और सौंदर्य का साथी है विटामिन-ई, जानिए 10 लाभ
विटामिन-ई खासतौर पर सोयाबीन, जैतून, तिल के तेल, सूरजमुखी, पालक, ऐलोवेरा, शतावरी, ऐवोकेडो ...