पं. हेमन्त रिछारिया

ज्योतिर्विद पं. हेमन्त रिछारिया ज्योतिष प्रभाकर उपाधि से सम्मानित हैं। विगत 12 वर्षों से ज्योतिष संबंधी अनुसंधान एवं ज्योतिष से जुड़ी गलत धारणाओं का खंडन कर वास्तविक ज्योतिष के प्रचार-प्रसार में योगदान दे रहे हैं। कई ज्योतिष आधारित पुस्तकों का लेखन।

श्राद्ध करने में समर्थ नहीं हैं तो करें आमान्न दान, जानिए क्या है यह

बुधवार,सितम्बर 13,2017

दोनों भुजाओं को उठाकर ऐसे करें पितरों से प्रार्थना

बुधवार,सितम्बर 13,2017

सावधान, आपको परेशान कर सकता है राहु का राशि परिवर्तन

बुधवार,सितम्बर 13,2017

'गजच्छाया योग' में मिलता है श्राद्ध का अक्षयफल

रविवार,सितम्बर 10,2017

श्राद्ध में सबसे ज्यादा खास होता है कुतप काल

शुक्रवार,सितम्बर 8,2017

क्या आप जानते हैं श्राद्ध के 12 प्रकार

गुरुवार,सितम्बर 7,2017

जानिए क्यों आवश्यक है श्राद्धकर्म ?

मंगलवार,सितम्बर 5,2017

6 सितंबर से श्राद्धपक्ष आरंभ : पितरों की पूजा से देवता भी होते हैं प्रसन्न

मंगलवार,सितम्बर 5,2017

हत्थाजोड़ी : 5 आश्चर्यजनक लाभ देती है यह दुर्लभ जड़ीबूटी

बुधवार,अगस्त 30,2017

पूजा-अनुष्ठान में पुरोहित कैसा होना चाहिए?

रविवार,अगस्त 27,2017