ये है शनिदेव का चमत्कारी यंत्र, जिसके बारे में आप शायद ही जानते होंगे...

shani-yantra33sa


का चमत्कारिक प्रभाव : शनिवार को सायंकाल भोजपत्र या सादे कागज पर काली स्याही से निम्नलिखित को हिन्दी के अंक लिखते हुए सावधानी व श्रद्धापूर्वक बनाएं।
यंत्र बनाते समय तांत्रिक शनि मंत्र 'ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:' का उच्चारण करते रहें।

इस विधि से लिखकर उन यंत्रों पर रखें तथा इन यंत्रों का धूप-दीप से पूजन करके काले कपड़े में रुपया-पैसा सहित बांधकर किसी शनि मंदिर में के चरणों में अर्पित करें। इस प्रकार का टोटका लगातार 3 शनिवार करें।

शनि यंत्र दान का चमत्कारिक प्रभाव देखा गया है। ऐसा करने से शनि पीड़ा से शीघ्र मुक्ति मिलती है।

सिद्ध शनि तैंतीसा यंत्र

।।ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:।।

सभी प्रकार की शनि आराधनाओं के अंत में प्रार्थनास्वरूप शनि पीड़ा हर स्तोत्र पढ़ा जाना चाहिए।

ॐ सूर्यपुत्रो दीर्घदेहोविशालाक्ष: शिवप्रिय:।
मन्दचार प्रसन्नात्मा पीड़ा दहतु मे शनि:।।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :