सुख-सौभाग्य व समृद्धि चाहिए तो जपें सांईंबाबा के ये विशेष मंत्र

saibabaaa630


सांईं बाबा का स्मरण करने मात्र से हमारे सारे बिगड़े काम बन सकते हैं। इतना ही नहीं, अगर 9 तक सांईं बाबा का व्रत-उपवास लगातार किया जाए तो सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। गुरुवार का दिन सांईं बाबा को प्रसन्न करने का दिन है, क्योंकि वे स्वयं गुरु हैं।

सांईं बाबा अपने भक्तों को हर कष्ट से बचाते हैं। संकट के समय सांईं का स्मरण किया जाए तो वे चमत्कार अवश्य करते हैं और किसी न किसी रूप में सांईं भक्तों को समाधान का मार्ग दिखाते हैं। सांईं बाबा द्वारा संकट निवारण के सैकड़ों किस्से प्रचलित हैं।

उनके मंत्र जप से ईर्ष्या, द्वेष, स्वार्थ, कलह आदि सारे बुरे भाव दूर होते हैं तथा वे हमें सन्मार्ग दिखाते हैं। विशेष तौर पर गुरुवार के दिन अगर नीचे दिए गए मंत्रों का जाप किया जाए तो निश्चित ही आप जीवन की सभी परेशानियों से उबर सकते हैं। ‍‍‍किसी भी मंत्र का 108 बार जाप करना चाहिए। आइए जानें सांई बाबा के खास मंत्र...
सांईंबाबा के खास मंत्र

* ॐ सांईं राम।

* ॐ सांईं गुरुदेवाय नम:।


* ॐ सांईं देवाय नम:।

* ॐ शिर्डी देवाय नम:।

* ॐ समाधिदेवाय नम:।

* ॐ सर्वदेवाय रूपाय नम:।

* ॐ शिर्डी वासाय विद्महे सच्चिदानंदाय धीमहि तन्नो सांईं प्रचोदयात।

* ॐ साईं नमो नम:, श्री साईं नमो नम:, जय जय साईं नमो नम:, सद्गुरु साईं नमो नम:।

* ॐ अजर अमराय नम:।

* ॐ मालिकाय नम:।

* जय-जय सांईं राम।

* ॐ सर्वज्ञा सर्व देवता स्वरूप अवतारा।

निर्मल मन से एकाग्र होकर सांईं का ध्यान करते हुए इन विशेष मंत्रों से सांईं की आराधना प्रतिदिन या गुरुवार को अवश्य करें, निश्चित ही आपके सारे विघ्नों का नाश होगा और आपको सुख-सौभाग्य, समृद्धि और अच्छा जीवन मिलेगा।

-आरके.

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

राशिफल

अतिथि देवो भव:, जानिए अतिथि को देवता क्यों मानते हैं?

अतिथि देवो भव:, जानिए अतिथि को देवता क्यों मानते हैं?
अतिथि कौन? वेदों में कहा गया है कि अतिथि देवो भव: अर्थात अतिथि देवतास्वरूप होता है। अतिथि ...

यह रोग हो सकता है आपको, जानिए 12 राशि अनुसार

यह रोग हो सकता है आपको, जानिए 12 राशि अनुसार
12 राशियां स्वभावत: जिन-जिन रोगों को उत्पन्न करती हैं, वे इस प्रकार हैं-

वास्तु : खुशियों के लिए जरूरी हैं यह 10 काम की बातें

वास्तु : खुशियों के लिए जरूरी हैं यह 10 काम की बातें
रोजमर्रा में हम ऐसी गलतियां करते हैं जो वास्तु के अनुसार सही नहीं होती। आइए जानते हैं कुछ ...

कैसे करें गर्भाधान संस्कार, पढ़ें ज्योतिषीय जानकारी...

कैसे करें गर्भाधान संस्कार, पढ़ें ज्योतिषीय जानकारी...
श्रेष्ठ संतान के जन्म के लिए आवश्यक है कि 'गर्भाधान' संस्कार श्रेष्ठ मुहूर्त में किया ...

शुक्र आया अपनी राशि में, क्या होगा 12 राशियों के जीवन पर

शुक्र आया अपनी राशि में, क्या होगा 12 राशियों के जीवन पर असर
कला, धन, सौन्दर्य के कारक ग्रह शुक्र ने 20 अप्रैल, शुक्रवार को सुबह 2 बजे वृषभ राशि में ...

नृसिंह जयंती 2018 : क्या करें इस दिन, जानें 7 काम की ...

नृसिंह जयंती 2018 : क्या करें इस दिन, जानें 7 काम की बातें...
वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी को नृसिंह जयंती व्रत किया जाता है। वर्ष 2018 में यह ...

अपार धन चाहिए तो जपें श्रीगणेश के ये चमत्कारिक मंत्र

अपार धन चाहिए तो जपें श्रीगणेश के ये चमत्कारिक मंत्र
श्रीगणेश की आराधना को लेकर कुछ ऐसे तथ्य हैं, जिनसे आप अब तक अंजान रहे। जी हां, आप अगर ...

बहुत फलदायी है मोहिनी एकादशी, जानें व्रत का महत्व...

बहुत फलदायी है मोहिनी एकादशी, जानें व्रत का महत्व...
संसार में आकर मनुष्य केवल प्रारब्ध का भोग ही नहीं भोगता अपितु वर्तमान को भक्ति और आराधना ...

शत्रु और खतरों से सुरक्षा करते हैं ये मंत्र, अवश्य पढ़ें...

शत्रु और खतरों से सुरक्षा करते हैं ये मंत्र, अवश्य पढ़ें...
बौद्ध धर्म को भला कौन नहीं जानता। बौद्ध धर्म भारत की श्रमण परंपरा से निकला महान धर्म ...

24 अप्रैल 2018 का राशिफल और उपाय...

24 अप्रैल 2018 का राशिफल और उपाय...
बुरी सूचना से व्यथा रहेगी। दौड़धूप अधिक रहेगी। झंझटों में न पड़ें। व्यवसाय धीमा चलेगा। ...