तुला राशि : साल 2019 में क्या होगा 12 महीनों का हाल, जानिए जनवरी से लेकर दिसंबर तक का भविष्यफल

tula rashi 2019
तुला राशि : जानिए जनवरी से लेकर दिसंबर 2019 तक का भविष्यफल।
जनवरी- सौन्दर्य के प्रति रुझान रहेगा। स्त्री पक्ष के कार्यों में अनुकूल स्थिति रहेगी। विद्यार्थी वर्ग के लिए सुखद स्थिति का वातावरण पाएंगे। लेखन से संबंधित कार्यों में सफलता के साथ प्रसन्नता भी पाएंगे। व्यापार-व्यवसाय में यथावत स्थिति रहेगी। शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा। लेन-देन होगा। स्वास्थ्य ठीक रहेगा।

फरवरी- धन-कुटुम्ब के व्यक्तियों का सहयोग मिलेगा। वाणी के प्रभाव से रुके कार्य भी होंगे। पारिवारिक मामलों में खर्च होगा। भाग्य का साथ मिलने से कार्य में सुगमता रहेगी। नौकरीपेशाओं के लिए समय ठीक रहेगा। अधिकारी वर्ग भी सुखद स्थिति पाएंगे। शत्रु परास्त होंगे। शुभ समाचार मिलेगा।


मार्च- दैनिक व्यवसाय की स्थिति प्रगतिपूर्ण रहकर लाभजनक रहेगी। जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा। स्वास्थ्य उत्तम रहने से मन प्रसन्न रहेगा। धन की पूर्ति बनी रहेगी। नौकरीपेशा व्यक्ति अपने कार्य के प्रति सजग रहें। विद्यार्थी वर्ग को संभलकर चलना होगा व जल्दबाजी से बचना होगा।

अप्रैल- शत्रुपक्ष से राहत के साथ लाभजनक स्थिति रहेगी। मनोरंजन के साधनों में वृद्धि होगी। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। भाग्य में अनुकूल स्थिति होने से कार्य में प्रगति पाएंगे। पारिवारिक सहयोग मिलने से राहत महसूस होगी। नौकरीपेशाओं के लिए समय अनुकूल रहेगा। लेन-देन समय पर होगा।

मई- स्त्री पक्ष का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी। दांपत्य जीवन में सुखद स्थिति पाएंगे। स्वास्थ्य में कुछ कमी महसूस करेंगे। पारिवारिक मामलों में मिली-जुली स्थिति पाएंगे। शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहेगा। धन की बचत कम ही होगी। कुटुम्बियों का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी।

जून- आप अपने कार्य में सफलता पाएंगे। स्वास्थ्य ठीक रहने से प्रसन्नता रहेगी। बाहरी मामलों में सावधानी रखना होगी। यात्रा संभलकर करें। आर्थिक प्रयासों में कमी महसूस करेंगे। नौकरीपेशाओं के लिए समय अनुकूल रहेगा। पिता का सहयोग मिलने से राहत पाएंगे। शुभ समाचार मिलेगा।

जुलाई- पारिवारिक कार्य बनेंगे। मकान व भूमि से संबंधित कार्यों में सफलता मिलेगी। व्यापार-व्यवसाय में सावधानी रखना होगी। नौकरीपेशा अपने कार्य में सतर्कता रखें। भाग्यबल की स्थिति ठीक रहेगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से समय ठीक रहेगा। आर्थिक समस्याओं का समाधान होगा। यात्रा के योग बनेंगे।

अगस्त- पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा। राजनीतिज्ञ व्यक्तियों को अपने कार्य में सावधानी रखना होगी। दांपत्य जीवन में सतर्कता रखें। दैनिक व्यवसाय में मिली-जुली स्थिति पाएंगे। मकान व भूमि संबंधी मामलों में अनुकूल स्थिति रहेगी। शत्रुपक्ष प्रभावहीन होंगे। कर्ज की स्थिति में सुधार होगा।

सितंबर- धन से संबंधित समस्याओं का समाधान होगा। शत्रुपक्ष पर प्रभाव रहने से प्रसन्नता रहेगी। व्यापार-व्यवसाय के मामलों में महत्वपूर्ण कार्य बनेंगे। स्वास्थ्य की दृष्टि से समय अनुकूल रहेगा। पारिवारिक कार्यों में सावधानी रखना होगी। जीवनसाथी के सहयोग से धनलाभ के योग भी बनेंगे।

अक्टूबर- यात्रा करते वक्त सावधानी रखना होगी। बाहरी व्यक्तियों के संपर्क से सतर्कता बरतें। शत्रुपक्ष पर प्रभाव बना रहने से राहत महसूस करेंगे। साझेदारी के कार्य में संभलकर चलना होगा। लेन-देन के मामलों में सावधानी रखना होगी। नौकरीपेशाओं के लिए समय सहयोगवादी रहेगा। धन की बचत भी होगी।

नवंबर- जीवनसाथी के मामलों में प्रसन्नता रहेगी। दैनिक व्यापार-व्यवसाय की स्थिति अनुकूल रहेगी। साझेदारी के कार्यों में संभलकर चलना होगा। धर्म के क्षेत्र में सहयोगवादी समय व्यतीत होगा। राजनीतिज्ञों के लिए समय प्रतिकूल ही रहेगा। धन की बचत के योग बनेंगे, वहीं कुटुम्ब के व्यक्तियों का सहयोग मिलेगा।

दिसंबर- उत्साह में वृद्धि होकर महत्वपूर्ण कार्य में सफलता पाएंगे। पारिवारिक सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी। स्थानीय राजनीतिज्ञों के लिए सुखद वातावरण रहेगा। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति अनुकूल होने से प्रसन्नता महसूस करेंगे। जीवनसाथी से प्रसन्नता पाएंगे। अधिकारी वर्ग का सहयोग मिलेगा।

उपाय- इस वर्ष ओपल के साथ पन्ना पहनें। 5 साल से कम उम्र की कन्याओं को शुक्रवार के दिन खीर खिलाएं। लक्ष्मी-विष्णुजी की पूजा प्रति शुक्रवार को करें।



और भी पढ़ें :