तुला भविष्यफल 2018 : परिवार, सेहत, धन, नौकरी, प्यार, व्यापार और उपाय

तुला राशि- रा, री, रू, रे, रो, ता, ति, तु, ते
परिवार

तुला राशि वालों के लिए शनि चतुर्थेश और पंचमेश होकर योगकारक ग्रह है अत: इस वर्ष घर परिवर्तन के योग बनते हैं। यह परिवर्तन पारिवारिक कारणों से हो सकता है। भाई-बहन के साथ आपसी तालमेल की कमी रहेगी। संपत्ति को लेकर विवाद हो सकते हैं, इसके कारण दांपत्य जीवन में बाधा आ सकती है। चतुर्थेश शनि होने के कारण माता से वाद-विवाद संभव है। संतान पक्ष की सेहत को लेकर भी परेशानी हो सकती है। साझेदारी में कोई व्यवसाय करते हैं, तो थोड़ा संभलकर चलें विवाद हो सकता है। पिताजी के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। पारिवारिक व गृहसज्जा पर व्यय हो सकता है।
स्वास्थ्य

इस वर्ष स्वास्थ्य की दृष्टि से ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता है। गुप्त रोगों के संकेत हैं। किडनी, गॉल ब्लेडर, लिवर इत्यादि में दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है डॉक्टर की सलाह उचित होगी। मस्तिष्क तथा जोड़ों में दर्द की बीमारी के शिकार हो सकते हैं। ठंडी-गर्मी के कारण आप बीमार हो सकते हैं। पाचन संबंधी शिकायत भी हो सकती है। लिवर संबंधित समस्या आ सकती है, खान-पान पर ध्यान दें। नियमित व्यायाम लाभदायक रहेगा।
धन-संपत्ति

इस साल धन-संपत्ति के मामलों में सावधानी रखने की आवश्यकता है। संतान पर व्यय करना पड़ सकता है लेकिन साथ ही संतान से धनलाभ भी संभव है। शनि का प्रभाव अक्टूबर से दूर होगा अत: धन की बचत के योग बनेंगे व रुका पैसा मिलने की उम्मीद भी जागेगी। यदि मंगल की दशा अंतरदशा चल रही है तो आपको लाभ मिल सकता है।

नौकरीपेशा

इस वर्ष नौकरीपेशा के लिए लाभ की आशा अधिक है। जो विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी में लगे हैं उन्हें भी अवश्य ही लाभ मिलेगा। बेरोजगारों के लिए बहुत ही अच्छे योग बन रहे हैं अत: इस वर्ष आलस्य व लापरवाही से बचें, सफलता अवश्य मिलेगी। विद्यार्थी वर्ग को लाभ मिलेगा। छात्र वर्ग आलस्य से बचें तो उत्तम रहेगा। सर्विस में उन्नति का लाभ मिल सकता है। अधिकारियों तथा सहकर्मियों का सहयोग मिलेगा।
व्यवसाय

इस साल नया व्यवसाय प्रारंभ कर सकते हैं। साझेदारी में व्यवसाय करने का अवसर मिलेगा। यदि कोई फैक्टरी लगाना चाह रहे हैं तो यह अनुकूल समय है। परिश्रम करें, अवश्य लाभ मिलेगा। पुरानी प्रॉपर्टी को बेचकर कोई नई प्रॉपर्टी ले सकते हैं। लाभ थोड़ा कम मिलने की संभावना है। 'कम खाओ, गम खाओ' वाली नीति अपनाकर चलेंगे तो सुखी रहेंगे। निवेश करने से पहले विचार अवश्य कर लें। बड़ों की सलाह जरूर लें। बैंक अथवा किसी सहयोगी से पैसा ले सकते हैं। शुभ कार्यों में खर्च होने की संभावना है।
वाणी पर संयम रखें। किसी महत्वपूर्ण कार्य में बड़ों की सलाह लेकर चलें। अस्वस्थ हैं तो सबसे पहले स्वास्थ्य का ध्यान रखें। सहयोगात्मक स्थिति रखें, लाभ होगा।

अशुभ स्थिति में यह उपाय करें

इस वर्ष शनि की शुभता के लिए नीला रत्न धारण कर सकते हैं, परंतु धारण करने से पहले अनुभवी से जांच करवा लें। कार्यक्षेत्र तथा व्यापार-व्यवसाय में वृद्धि हेतु मोती धारण कर सकते हैं। स्वास्थ्य संबंधी समस्या हो तो गुरुवार का व्रत रखना चाहिए।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :