सावधान, कामकाजी महिलाओं को होती है ये बीमारि‍यां...


 
 
लगातार बदलती और भागदौड़ भरी जीवनशैली का आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। खास तौर से कामकाजी महिलाओं के लिए यह दिनचर्या कई तरह की समस्याओं को जन्म देती है, जिनके प्रति सतर्क रहने की आवश्यकता है।
 
कामकाजी महिलाओं का लगभग एक तिहाई हिस्सा की चपेट में है। एक सर्वे के अनुसार 20 से 40 वर्ष तक की महिलाओं में लाइफ स्टाइल डिसीज का खतरा सबसे ज्यादा होता है। समय रहते इन पर ध्यान नहीं देने से यह गंभीर परेशानी खड़ी कर सकती हैं। जानिए कौन से हैं, वे लाइफ स्टाइल डिसीज - 
 
1 - कामकाजी महिलाओं में डिप्रेशन की समस्या लगातार बढ़ती जा रही है। इसका मुख्य कारण घर और कार्यस्थल पर काम का दबाव अधि‍क होना है। इसके अलावा दोनों ओर की अपनी चिंता और निजी जीवन की कई चीजें मिलकर महिलाओं को अत्यधि‍क तनाव देने का काम करती हैं। ऐसे में कई बार नींद भी बुरी तरह से प्रभावित होती है, और अगर धूम्रपान की आदत हो, तो यह समस्या और बढ़ सकती है।
 
इसके लिए जरूरी है, कि आप अपनी नींद पूरी करें, और भरपूर नींद लें। इसके अलावा किसी भी काम को तनाव लेकर न करें, इससे आपको काम में बेहतर परिणाम भी नहीं प्राप्त नहीं होते। अत्यधि‍क जिम्मेदारियां लेने के बजाए, जितना काम है, उसे शांत दिमाग से करें और जल्दबाजी बिल्कुल न करें। तनाव दूर करने के लिए मेडिटेशन एक अच्छा उपाय है, इसे अपनाएं और धूम्रपान या शराब का सेवन करने से बचें।
 
2  मोटापा - अक्सर होता यह है कि कामकाजी महिलाएं अपनी डाइट पर ठीक से ध्यान नहीं देती, और भोजन भी समय पर नहीं करती। इसके अलावा अत्यधिक काम की वजह से भोजन करने के बजाए, भूख मिटाने के लिए जंक फूड का प्रयोग करती हैं, जिसमें पोषक तत्वों की पूर्ति नहीं हो पाती, और सेहत को उल्टा नुकसान ही होता है। ऑफि‍स में भी बहुत ज्यादा चलना फिरना नहीं हो पाता। ऐसे में मोटापा बहुत आसानी से अपनी जगह बना लेता है।
 
इसके लिए आपको बाहर के खाने से परहेज करना होगा। अपने डाइट का समय और मात्रा निर्धारित करें और फैटी फूड लेने की जगह पोषक तत्वों से भरपूर चीजों का सेवन करें। एक्सरसाईज को अनिवार्य तौर पर अपनी दिनचर्या में शामिल करें और मोटापे से बचने के लिए हर 4 से 6 महीने में थाइरॉइड की जांच जरूर करवाएं।
 
3 ब्लड प्रेशर - कार्यस्थल पर ज्यादा शारीरिक श्रम नहीं हो पाता और मोटापा बढ़ता है। इसके अलावा शरीर और रक्त में की मात्रा अधि‍क हो जाने के कारण की समस्या जन्म लेती है। ऐसे में धूम्रपान या अल्कोहल इस समस्या को और अधि‍क बढ़ाने में मदद करता है।
 
इसके लिए अपने आहार पर विशेष ध्यान दें। कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रि‍त रखने के लिए तली-भुनी चीजों या फास्ट फूड से दूरी बनाएं। इसके अलावा खाने में नमक की अत्यधिक मात्रा लेने से परहेज करें। प्रतिदिन एक्सरसाईज जरूर करें और तनाव को दूर करने का प्रयास करें। धूम्रपान या अल्कोहल से दूरी बनाए रखें।
 
4  - वजन बढ़ने और भोजन में प्रोटीन व फाइबर की कमी व रिफाइंड के साथ फैटी फूड की अधि‍कता से शरीर में ग्लूकोज का स्तर भी बढ़ता है, जिससे डाइबिटीज की समस्या सामने आती है। अल्कोहल का प्रयोग करने पर यह समस्या बढ़ जाती है।
 
इससे बचने के लिए आपको अपने शुगर के स्तर पर नजर रखना जरूरी है। नियमित रूप से जांच कराएं और अपने वजन को नियंत्रित रखने का प्रयास करें। इसके अलावा खाने में प्रोटीन व फाइबर से भरपूर डाइट लें और फैटी फूड के सेवन से बचें। इससे बचने के लिए आपको अल्कोहल के प्रयोग से भी बचना होगा।
 
 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

कविता : श्रावण माह में शिव वंदना

कविता : श्रावण माह में शिव वंदना
शिव है अंत:शक्ति, शिव सबका संयोग। शिव को जो जपता रहे, सहे न कभी वियोग। शिव सद्गुण विकसित ...

कपल्स के लिए अब बच्चे नहीं रहे प्राथमिकता, कुछ है जो इससे ...

कपल्स के लिए अब बच्चे नहीं रहे प्राथमिकता, कुछ है जो इससे भी जरूरी है....
बदलते वक्त के साथ अब महिलाओं की प्रेग्‍नेंसी को लेकर सोच भी काफी बदल गई है। आज की महिलाएं ...

ये रहा कैंसर का प्रमुख कारण, इसे रोक लिया तो समझो कैंसर की ...

ये रहा कैंसर का प्रमुख कारण, इसे रोक लिया तो समझो कैंसर की छुट्टी
बीमारी कितनी ही बड़ी क्यों न हो, सही इलाज और सावधानियां अपनाकर इस पर जीत पाई जा सकती है। ...

कविता : नहीं चाहिए चांद

कविता : नहीं चाहिए चांद
मुझे नहीं चाहिए चांद/और न ही तमन्ना है कि सूरज कैद हो मेरी मुट्ठी में

तीन तलाक : शांति अब शोर में तब्दील हो चुकी है

तीन तलाक : शांति अब शोर में तब्दील हो चुकी है
जिस तरह से संसार में दो ही चीजें दृश्य हैं, प्रकाश और अंधकार। उसी तरह श्रव्य भी दो ही ...

चाय पीते वक्त ज्यादातर लोग करते हैं यह 5 गलतियां, कहीं आप ...

चाय पीते वक्त ज्यादातर लोग करते हैं यह 5 गलतियां, कहीं आप तो नहीं करते ऐसा?
चाय पीना आपमें से जदातर लोगों को पसंद होता है, और कई बार चाय पीना सेहत के लिए भी फायदेमंद ...

इस साल क्या है रक्षाबंधन पर राखी बांधने का शुभ मुहूर्त, ...

इस साल क्या है रक्षाबंधन पर राखी बांधने का शुभ मुहूर्त, क्या धनिष्ठा पंचक बनेगा रूकावट
रक्षाबंधन का त्योहार इस वर्ष 26 अगस्त को है। इस साल अच्छी बात यह है कि राखी के दिन भद्रा ...

रक्षाबंधन में नहीं है भद्रा का दोष, ऐसे सजाएं राखी की थाली ...

रक्षाबंधन में नहीं है भद्रा का दोष, ऐसे सजाएं राखी की थाली अपने भाई के लिए
हिन्दू पंचांग के अनुसार रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त प्रातः 5 बजकर 59 मिनट से आरंभ होकर शाम 5 ...

अमेरिकी वैज्ञानिकों ने तैयार किया पेसमेकर का विकल्प बायोनिक ...

अमेरिकी वैज्ञानिकों ने तैयार किया पेसमेकर का विकल्प बायोनिक कार्डियक पैच
अमेरिका में हार्वर्ड विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने पेसमेकर के विकल्प के तौर पर एक ...

घर की कौनसी दिशा बदल सकती है आपकी दशा, जानिए वास्तु के ...

घर की कौनसी दिशा बदल सकती है आपकी दशा, जानिए वास्तु के अनुसार
चारों दिशाओं से सुख-संपत्ति और सम्मान पाना है तो जानें वास्तु के अनुसार कैसी हो भवन की ...