नवंबर में लड़के शेव क्यों नहीं बनाएंगे #NoShaveNovember

Last Updated: शनिवार, 28 अक्टूबर 2017 (15:18 IST)
आज के दौर में लड़के आपको स्टाइलिश शेव में नज़र आएंगे, फैशन चल रहा है। वो दिन गए जब लड़के क्लीन शेव रहते थे, अब बीयर्ड में ही स्टाइल है। ज़माना बदल गया है और लड़के अपनी क्लीन शेव चॉकलेटी इमेज से बाहर आ रहे हैं और दाढ़ी बढ़ा रहे हैं। चाहे रणवीर सिंह हो या विराट कोहली हर किसी में बड़ी बीयर्ड रखने का क्रेज़ बढ़ता ही जा रहा है और इन्हीं सेलीब्रिटीज़ को लड़के जमकर फॉलो कर रहे हैं।

नवंबर आने में हैं और लड़को का #भी शुरू हो रहा है। कई सालों से लड़के इस फेमस ट्रेंड को फॉलो कर रहे हैं और हम भी उत्सुक है ये जानने को कि यह इस बार किस लेवल तक जाएगा। हर कोई अपनी बीयर्ड एक स्टाइल के रूप में रखना चाहता है लेकिन क्या आप जानते हैं की आखिर इस हैशटैग का मोटिव क्या है?

दरअसल नो-शेव नवंबर का मोटिव है अपने बालों को फ्रीली बढ़ने देना, जो कई कैंसर के रोगी खो देते हैं। साथ ही साथ जो पैसा आप आमतौर पर शेविंग और सौंदर्य पर खर्च करते हैं, उन पैसों से लोगों को कैंसर की रोकथाम, जान बचाने और लड़ाई लड़ने वालों की सहायता के बारे में जागरुक करें। 2009 में फेसबुक पर लांच हुए NoShaveNovember ने पिछले साल ही अमेरिकन कैंसर सोसायटी के साथ पार्टनरशिप की।

अब लोग इस मोटिव के बारे में जानते हैं या नहीं जानते, लेकिन इस नो-शेव का क्रेज़ युथ में बहुत बढ़ चुका है। नो-शेव अब ऐसा हो गया है कि चाहे कुछ भी हो जाए लेकिन लड़के अपनी बियर्ड नवंबर में तो रखते ही रखते हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :